हनुमान जयंती पर न करें ये काम, बजरंग बली हो सकते हैं रुष्ट

2018-03-30_Hanuman-Jayanti.jpg

बजरंग बली की जन्मदिवस शनिवार 31 मार्च को पूरे हिंदुस्तान में मनाई जाएगी. हनुमान जी का जन्म चैत्र माह की पूर्णिमा को माता अंजनी की गर्भ से हुआ था. यह हनुमान भक्तों के लिए यह सबसे बड़ा पर्व है.

माना जाता है इस दिन इनकी विधिपूर्ण पूजा करने से सभी तरह की बाधाओं का नाश हो जाता है. जानते हैं हनुमान जयंती पर पूजा का शुभ मुहूर्त और पूजा में बरतने वाली सावधानियां. यह भी पढ़ें: हनुमान जयंती 2018: धन प्राप्ति के 5 विशेष टोटके

शुभ मुहूर्त: हनुमान जयंती का शुभ मुहूर्त 30 मार्च की शाम को 7 बजकर 35 मिनट से 31 मार्च को शाम 6 बजकर 6 मिनट तक रहेगी. 31 मार्च को उदय तिथि होने कारण इस दिन पू्र्णिमा मनाई जाएगी. 

हनुमान जयंती के दिन हनुमान चालीसा और सुंदरकांड का पाठ करना शुभ होता है. परन्तु इस वक्त कुछ गलतियां करने से बचना चाहिए:

हनुमान जी की पूजा करते समय न तो काले कपड़े पहने और न ही सफेद. बजरंग बली की पूजा में लाल और पीले रंग के कपड़ो का इस्तेमाल शुभ होता है.

हनुमान जी की पूजा में चरणामृत का प्रयोग नहीं करना चाहिए और ना ही खंडित और टूटी हुई मूर्ति की पूजा करना चाहिए.

हनुमान जी के पूजा करते समय तन और मन दोनों ही शुद्ध होने चाहिए. पूजा के दौरान भूलकर भी मांस और मदिरा का सेवन की मनाही है. 



loading...