GST दरें तय, शिक्षा और हेल्थकेयर पर नहीं लगेगा कोई टैक्स

2017-05-19_gst54.jpg

शिक्षा व स्वास्थ्य पर नई टैक्स सिस्टम जीएसटी में भी कोई टैक्स नहीं लगेगा, जबकि सेवाओं पर चार अलग अलग दरों से जीएसटी लगाने का फैसला किया गया है. जीएसटी परिषद ने वस्तु व सेवा कर (जीएसटी) प्रणाली के तहत सेवाओं के लिए दरों को आज अंतिम रूप दिया. इसके तहत एकोनामी क्लास में हवाई यात्रा सहित परिवहन पर 5% जीएसटी लगेगा.

परिषद ने दूरसंचार, बीमा, होटल और रेस्टोरेंट सहित विभिन्न सेवाओं के लिए 4 दर स्लैब 5, 12, 18 और 28% में टैक्स लगाने का फैसला किया है. यह दरें भी वस्तुओं के लिए तय की गई दरों के अनुसार ही हैं.

दूरसंचार व वित्तीय सेवाओं पर 18% की मानक दर से कर लगेगा. परिवहन सेवाओं पर 5% टैक्स लगेगा. यह दर ओला और उबर जैसी एप्प से टैक्सी बुकिंग सेवा देने वाली कंपनियों पर भी लागू होगी. इसके साथ ही फिलहाल 6% टैक्स देने वालों पर यह लागू होगी.

जहां तक रेल यात्रा का सवाल है तो सामान्य श्रेणी या गैर वातानुकूलित (एसी) रेल यात्रा को जीएसटी से छूट दी गई है जबकि वातानुकूलित टिकटों पर 5% शुल्क लगेगा. हवाई यात्रा में इकनोमी श्रेणी पर 5% जबकि बिजनेस श्रेणी यात्रा पर 12% जीएसटी लगेगा.

जीएसटी के तहत मनोरंजन टैक्स को सेवा टैक्स में मिला दिया जाएगा जबकि सिनेमा सेवाओं, घुड़दौड़ में बाजी लगाने या गेंबलिंग पर 28% टैक्स लगेगा. प्रति दिन 1000 रुपए का शुल्क लगाने वाले होटल और लॉज को जीएसटी में छूट रहेगी. वहीं 1000 से 2000 रुपए प्रति दिन शुल्क वाले होटल के लिए शुल्क दर 12% रहेगी. इसी तरह 2500 से 5000 रुपए प्रति दिन शुल्क वाले होटल के लिए शुल्क दर 18% रहेगी. इसी तरह 5000 रुपए से अधिक प्रतिदिन शुल्क वाले होटल के लिए शुल्क दर 28% होगी.



loading...