उत्तरप्रदेश : सिर्फ खूबसूरती देख कर ली शादी, चौथे दिन दुल्हन सारा सामान बाँध हुई फरार

2018-04-17_thagdulhan.jpg

शादी-ब्याह की जब भी बात आती है तो हम सभी पूरी जाँच पड़ताल करते हैं. चाहे लव मैरिज हो या अरेंज मैरिज. घर-परिवार की पूरी जानकरी ली जाती है. परन्तु शामली में एक शख्स को ऐसा न करना भारी पड़ गया.

शामली डिस्ट्रिक्ट के सदर कोतवाली इलाके के आर्यपुरी में राकेश बंसल का घर है. वह यहां अपनी बुजुर्ग मां के साथ रहते हैं. राकेश की कुछ वक्त पहले विशाल नाम के एक शख्स से जान-पहचान हुई. विशाल ने राकेश को एक लड़की के बारे में बताया. विशाल ने हिमानी नाम की इस लड़की से राकेश को मिलवा भी दिया. लड़की ने खुद को हरिद्वार का बताया. हिमानी की खूबसूरती देख राकेश ने शादी के लिए हां कह दिया. राकेश ने विशाल को शादी के इंतजामात के लिए करीब डेढ़ लाख रुपए दिए और जेवर बनवाए. 

9 अप्रैल को राकेश पूरी तैयारी के साथ अपनी मां और दोस्तों व नजदीकी रिश्तेदारों के साथ शादी के लिए सीधे उसी होटल पहुंच गया जहां से शादी होनी था. शादी भी हुयी, सात फेरे हुए. सभी रस्में हुईं. शादी के बाद राकेश नई नवेली दुल्हन के साथ वापस शामली लौट आया. शादी के बाद हिमानी ने राकेश से पति-पत्नी वाले सम्बन्ध भी नहीं बनाये. 

13 अप्रैल की शाम में राकेश काम से घर लौटा. घर पहुंचकर देखा कि सामान बिखरा हुआ था. घर से कीमती सामान, जेवर व कैश गायब था. राकेश ने हिमानी को फ़ोन किया लेकिन फ़ोन बंद मिला. विशाल, जिसने शादी कराई, का फ़ोन भी बंद मिला. राकेश ने अपनी मां से जानकारी ली तो पता चला कि दुल्हन सामान बांध गायब हो गई. इसके बाद राकेश ने घटना की शिकायत पुलिस से की. एसपी देव रंजन वर्मा ने बताया कि शादी जिस लड़की से की गई उसके बारे में पति राकेश को कुछ पता ही नहीं. हरिद्वार में वह उसके घर तक नहीं गए हैं. पुलिस मुकदमा दर्ज कर झूठी दुल्हन को तलाश रही है.

यहाँ सोचने वाली बात है, जिसके साथ आप अपनी पूरी जिंदगी बिताने जा रहे हो उसके बारे में  क्या जाँच-पड़ताल भी जरूरी नहीं. इस घटना को देखकर लगता है कि विशाल भी उस लड़की से मिला हुआ था.



loading...