ग्राहम रीड बने भारतीय पुरुष हॉकी टीम के मुख्य कोच

2019-04-08_GrahamReid.jpg

हॉकी इंडिया ने 54 वर्षीय ग्राहम रीड को भारतीय पुरुष हॉकी टीम का मुख्य कोच नियुक्त किया है. 54 वर्षीय रीड जल्द ही बेंगलुरु में चल रहे नैशनल कैंप में टीम के साथ जुड़ जाएंगे. रीड ऑस्ट्रेलियाई टीम के लिए डिफेंडर और मिडफील्डर की भूमिका निभाते थे. वह ओडिशा में वर्ल्ड सीरीज फाइनल से पहले टीम के साथ जुड़ जाएंगे.

हॉकी इंडिया ने सोमवार को एक प्रेस विज्ञप्ति में इस बात की जानकारी दी. रीड बार्सिलोना ओलिंपिक में सिल्वर मेडल जीतने वाली ऑस्ट्रेलियाई टीम का हिस्सा थे. इसके साथ ही 1984, 1985 और 1989 व 1990 में चैंपियंस ट्रोफी जीतने वाली ऑस्ट्रेलिआई टीम का भी हिस्सा थे. 130 अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने वाले रीड ने 2009 में कोचिंग से जुड़े थे. तब उन्हें ऑस्ट्रेलिया की टीम का सहायक कोच बनाया गया था.

हॉकी इंडिया के प्रेजिंडेट मोहम्मद मुश्ताक अहमद ने कहा, 'एक खिलाड़ी के तौर पर ग्राहम का एक कामयाब करियर रहा है. इसके साथ ही उनका कोचिंग अनुभव भी बहुत अच्छा है. वह ऑस्ट्रेलिया और नीदरलैंड्स की राष्ट्रीय टीम के साथ काम कर चुके हैं. हमें उम्मीद है कि उनका अनुभव और विशेषज्ञता भारतीय टीम को 2020 तोक्यो ओलिंपिक के लिए अपेक्षित परिणाम हासिल करने में मदद करेगा.

इस अवसर पर रीड ने कहा, 'भारतीय हॉकी टीम का मुख्य कोच बनना मेरे लिए गर्व और सम्मान की बात है. इस खेल में किसी टीम के इतिहास की तुलना भारत से नहीं की जा सकती. विपक्षी टीम के कोच के रूप में मैं भारतीय हॉकी का लुत्फ उठा चुका हूं. भारतीय टीम धीरे-धीरे दुनिया की सबसे खतरनाक टीमों में शुमार होती जा रही है.' उन्होंने कहा कि मुझे भारतीय टीम की तेज और आक्रामक हॉकी पसंद है. यह ऑस्ट्रेलियाई अंदाज के काफी करीब है.



loading...