चक्रवाती तूफान 'गाजा ' ने तमिलनाडु में दी दस्तक, 11 लोगों की मौत, स्कूल-कॉलेज बंद

2018-11-16_Tamilnadu.jpg

चक्रवाती तूफान ‘गाजा’ गुरुवार देर रात तमिलनाडु के नागपट्टनम और वेदरन्नियम तट से टकराया. मौसम विभाग ने रात 3.15 बजे जारी बुलेटिन में कहा कि ‘गाजा’ के असर से कई इलाकों में भारी बारिश हो रही है. 120 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से हवाएं चलीं. मुख्यमंत्री पलानीसामी ने बताया कि हादसों में 11 लोगों की मौत हुई. आपदा प्रबंधन विभाग के मुताबिक, 80 हजार लोगों को तटीय इलाकों से हटाकर 300 राहत शिवरों में भेजा गया है.

तेज हवाओं और बारिश की वजह से बिजली के खंभे और पेड़ उखड़ गए. कई इलाकों में बिजली आपूर्ति पूरी तरह से ठप हो गई है. तटीय इलाकों के घरों को भी नुकसान पहुंचा है. प्रशासन ने मदद के लिए एनडीआरएफ की नौ टीमें प्रभावित इलाके में तैनात की हैं. गुरुवार-शुक्रवार को ऐहतियातन सभी स्कूलों में छुट्टी घोषित कर दी गई.

मौसम विभाग ने गुरुवार को बताया था कि चक्रवात गाजा 14 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से आगे बढ़ा. तमिलनाडु, दक्षिणी आंध्र और पुड्डुचेरी तट पर ऊंची लहरें उठने की आशंका है. मछुआरों को समुद्र में न जाने की सलाह दी गई. तमिलनाडु में एनडीआरएफ की नौ और पुड्डुचेरी में दो टीमें तैनात है. इसके अलावा 31 हजार बचाव कर्मियों और एसडीआरएफ को भी स्टैंडबाई पर रखा है, ताकि आपात स्थिति में उनकी मदद ली जा सके.

मौसम विभाग के मुताबिक, तमिलनाडु के उत्तरी और दक्षिणी तटीय इलाकों में गुरुवार रात से ही तेज बारिश हो रही है. कुड्डालोर, नागापट्टनम, तिरुवरूर, थंजावुर, पुड्डुकोट्टाई, तूतिकोरिन और रामनाथपुरम में मूसलाधार भारी बारिश हो रही है.

अन्ना यूनिवर्सिटी ने अपनी सेमेस्टर परीक्षाएं रद्द कर दी हैं. वहीं, टेक्नीकल डिप्लोमा कोर्स की परीक्षाओं की तारीख 24 नवंबर तक बढ़ाई गई है. राज्य के तंजवुर, त्रिरुवरूर, नागपट्टनम, रामनाथपुरम, पुडुकोट्टाई और पुड्डुचेरी के कराईकल जिले में स्कूल-कॉलेज बंद रखे गए.



loading...