गुरुग्राम के उलावास में चार मंजिला इमारत गिरी, मलबे में दबे 5 से ज्यादा लोग, राहत बचाव कार्य जारी

Haryana Board 10th Result: झज्जर के हिमांशु ने किया टॉप, यहां देखें अपना परिणाम

हरियाणा के सिरसा राहुल गांधी ने कहा- मोदी के नकली वादे कभी पूरे नहीं होंगे, लेकिन हमारे 72 हजार जरुर आयेंगे

नवजोत सिंह सिद्धू पर रोहतक की रैली में महिला ने फेंकी चप्पल, पुलिस ने हिरासत में लिया

लोकसभा चुनाव: फतेहाबाद के बाद कुरुक्षेत्र में पीएम मोदी ने कहा- मुझे एक से एक गाली दे रहे कांग्रेस के लोग, जवानों के खून का दलाल कहा गया

लोकसभा चुनाव: हरियाणा के फतेहाबाद में पीएम मोदी ने कहा- आपको जमीन हड़पने वालों को जेल भेजकर रहूंगा

हरियाणा के अंबाला में प्रियंका गांधी वाड्रा ने दुर्योधन से की पीएम मोदी की तुलना, कहा- मेरे शहीद पिता का अपमान बर्दास्त नहीं

2019-01-24_Gurugram.jpg

गुरुग्राम के उलावास इलाके में आज सुबह चार मंजिला इमारत गिर गई.  बिल्डिंग के मलबे में पांच से ज्यादा लोग दबे हुए हैं. मलबे में दबे लोगों को निकालने के लिए प्रयास जारी है. इमारत के ढहने की खबर मिलते ही मौके पर पहुंचे अधिकारियों ने मलबे में दबे लोगों को निकालने का काम शुरू कर दिया है. 

जानकारी के मुताबिक बिल्डिंग में काम चल रहा था. मजदूर अपने काम में लगे हुए थी कि इमारत अचानक गिर गई. इमारत गिरने के बाद मलबे में फंसे मजदूरों की चीख पुखार सुनने के बाद लोग इकट्ठा हुए और पुलिस को जानकारी दी. मौके पर पहुंची पुलिस ने स्थानीय लोगों की मदद से मलबे में फंसे मजदूरों को निकालने का काम शुरू कर दिया है.

मलबे में दबे लोगों को निकालने वाले कर्मचारियों का कहना है कि अभी तक इस बात की जानकारी नहीं मिल पाई है कि आखिरकार यह हादसा कैसे हुआ. एक अधिकारी ने बताया कि जिस जगह पर यह हादसा हुए है वह साइबर हब से महज 12 किलोमीटर की दूरी पर है. उन्होंने बताया कि राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) की तीन टीमें गाजियाबाद और द्वारका बचाव कार्य में जुटी हुई हैं.

आपको बता दें कि पिछले एक साल में दिल्ली-एनसीआर में इमारतों के ढहने का सिलसिला जारी है. ग्रेटर नोएडा के शाहबेरी इलाके में हुए हादसे के बाद ऐसी घटनाओं की संख्या में इजाफा देखने को मिल रहा है.



loading...