गुरुग्राम के उलावास में चार मंजिला इमारत गिरी, मलबे में दबे 5 से ज्यादा लोग, राहत बचाव कार्य जारी

हरियाणा के कुरुक्षेत्र में पीएम मोदी ने कहा- जो ईमानदार है उन्हें चौकीदार पर विश्वास है, जो भ्रष्ट है उन्हें मोदी से कष्ट है

जींद उपचुनाव: जाटलैंड में 52 साल बाद खिला कमल, 12935 वोटों से जीते कृष्ण मिड्ढा, कांग्रेस के रणदीप सुरजेवाला की करारी हार

बीएसएफ में खराब खाने का आरोप लगाने वाले जवान तेज बहादुर यादव के बेटे ने की आत्महत्या

पत्रकार रामचंद्र छत्रपति हत्याकांड मामले में राम रहीम समेत अन्य दोषियों को उम्रकैद की सजा

पत्रकार रामचंद्र छत्रपति हत्याकांड मामले में राम रहीम समेत अन्य दोषियों को आज सुनाई जाएगी सजा, हरियाणा-पंजाब में बढ़ाई गई सुरक्षा

पत्रकार रामचंद्र छत्रपति हत्याकांड मामले में राम रहीम समेत 4 आरोपी दोषी करार, 17 जनवरी को सजा का ऐलान

2019-01-24_Gurugram.jpg

गुरुग्राम के उलावास इलाके में आज सुबह चार मंजिला इमारत गिर गई.  बिल्डिंग के मलबे में पांच से ज्यादा लोग दबे हुए हैं. मलबे में दबे लोगों को निकालने के लिए प्रयास जारी है. इमारत के ढहने की खबर मिलते ही मौके पर पहुंचे अधिकारियों ने मलबे में दबे लोगों को निकालने का काम शुरू कर दिया है. 

जानकारी के मुताबिक बिल्डिंग में काम चल रहा था. मजदूर अपने काम में लगे हुए थी कि इमारत अचानक गिर गई. इमारत गिरने के बाद मलबे में फंसे मजदूरों की चीख पुखार सुनने के बाद लोग इकट्ठा हुए और पुलिस को जानकारी दी. मौके पर पहुंची पुलिस ने स्थानीय लोगों की मदद से मलबे में फंसे मजदूरों को निकालने का काम शुरू कर दिया है.

मलबे में दबे लोगों को निकालने वाले कर्मचारियों का कहना है कि अभी तक इस बात की जानकारी नहीं मिल पाई है कि आखिरकार यह हादसा कैसे हुआ. एक अधिकारी ने बताया कि जिस जगह पर यह हादसा हुए है वह साइबर हब से महज 12 किलोमीटर की दूरी पर है. उन्होंने बताया कि राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) की तीन टीमें गाजियाबाद और द्वारका बचाव कार्य में जुटी हुई हैं.

आपको बता दें कि पिछले एक साल में दिल्ली-एनसीआर में इमारतों के ढहने का सिलसिला जारी है. ग्रेटर नोएडा के शाहबेरी इलाके में हुए हादसे के बाद ऐसी घटनाओं की संख्या में इजाफा देखने को मिल रहा है.



loading...