नहीं मिला भूतपूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को इफ्तार पार्टी में निमंत्रण,कांग्रेस ने नहीं किया आमंत्रित

2018-06-11_pranab-mukherjee.jpg

वैसे तो पार्टी में आने वाले मेहमानों के नाम नहीं बताये गये हैं. हाँ इतना जरूर है कि इसमें भूत पूर्व राष्ट्रपति को निमंत्रण नहीं दिया गया है. कांग्रेस ने अपनी इफ्तार पार्टी में पूर्व उप-राष्ट्रपति हामिद अंसारी को भी इनविटेशन नहीं दिया है. हालांकि अरविंद केजरीवाल या उनकी आम आदमी पार्टी का नाम भी इस इफ्तार पार्टी के आमंत्रित लोगों की सूची में शामिल नहीं है.

आमंत्रित लोगों में उन सभी लोगों का नाम लिस्टेड जिन्हें इस साल की शुरुआत में सोनिया गांधी के भव्य रात्रिभोज के लिए बुलाया गया था. उस रात्रिभोज को PM नरेंद्र मोदी और अमित शाह की अगुवाई वाली बीजेपी से लड़ने के लिए एक 'महागठबंधन' बनाने की कोशिश के रूप में देखा गया था.

कांग्रेस के अल्पसंख्यक मोर्चा द्वारा आयोजित की जाने वाली यह इफ्तर पार्टी 13 जून को नई दिल्ली के ताज पैलेस होटल में होगी. आमंत्रित किए गए सभी राजनीतिक दलों से कहा गया है कि यदि वे अपने बड़े नेताओं को नहीं भेज सकते हैं तो अपने प्रतिनिधियों को भेज दें क्योंकि यह निमंत्रण आखिरी वक्त पर दिये गए हैं. 

हालांकि मुखर्जी और अंसारी दोनों को कांग्रेस के इस पार्टी में आमंत्रित नहीं किया गया है. पर पूर्व राष्ट्रपति को नहीं आमंत्रित किए जाने पर जाहिर सी बात है सभी की भौहें तिरछी होंगी क्योंकि यह संघ के मुख्यालय नागपुर में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के कार्यक्रम में मुखर्जी के शामिल होने के तुरंत बाद आयोजित हो रहा है. 

कांग्रेस ने RSS के आयोजन में पूर्व राष्ट्रपति के भाषण से पहले प्रतिक्रिया जाहिर करते हुए चिंता जताई थी. लेकिन बाद में राहत की सांस ली और कहा कि मुखर्जी ने दक्षिणपंथी समूह को "सच का आईना" दिखाया है.


 



loading...