ताज़ा खबर

पूर्व नौसेना प्रमुख ने सीएम योगी के 'मोदीजी की सेना' वाले बयान पर चुनाव आयोग को लिखी चिट्ठी

चुनाव आयोग का PM मोदी की बायोपिक पर रोक लगाने के बाद निर्माताओं ने खटखटाया सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा

सेना के राजनीतिक इस्तेमाल को लेकर राष्ट्रपति को चिट्ठी लिखने की खबर का पूर्व सैन्य अधिकारियों ने किया खंडन

PM मोदी के नाम एक और उपलब्धि, रूस ने दिया अपना सर्वोच्‍च नागरिक सम्‍मान ‘ऑर्डर ऑफ सेंट एंड्रयूज’

राफेल मामले में राहुल गांधी के बयान के खिलाफ बीजेपी सांसद मीनाक्षी लेखी ने सुप्रीम कोर्ट में दायर की अवमानना याचिका

जेट एयरवेज पर गहराया संकट, केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री सुरेश प्रभु ने नागर विमानन सचिव से मांगी रिपोर्ट

सुप्रीम कोर्ट का चुनावी बॉन्ड पर बड़ा फैसला, 30 मई तक सभी राजनीतिक दलों को चंदे की जानकारी देने के दिए निर्देश

2019-04-02_YogiSpeech.jpg

पूर्व नौसेना प्रमुख एडमिरल लक्ष्मीनारायण रामदास ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के 'मोदीजी की सेना' वाली टिप्पणी पर चुनाव आयोग को खत लिखा है. 30 मार्च को गाजियाबाद में आयोजित एक रैली में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भारतीय सेना को 'मोदीजी की सेना' कहा था.

इस मामले में चुनाव आयोग ने भी डीएम से ऑडियो-वीडियो रिकॉर्डिंग की मांग की है. आयोग ने जिला निर्वाचन एवं जिलाधिकारी गाजियाबाद को निर्देश दिया कि वो मंगलवार की सुबह तक रविवार को हुई सीएम की सभा का वीडियो रिकॉर्डिंग मुहैया कराएं. 

वहीं जिलाधिकारी रितु माहेश्वरी ने कहा कि सभा से जुड़ी ऑडियो-वीडियो रिकार्डिंग निकलवा ली गई हैं. निर्धारित समय अवधि में आयोग को उपलब्ध करा दी जाएंगी. आयोग ने योगी द्वारा सेना संबंधी दिए बयान पर आपत्ति जताई है.

दरअसल, सीएम ने रविवार को गाजियाबाद से भाजपा उम्मीदवार जनरल वीके सिंह की चुनावी सभा में कहा था कि पिछली सरकारों के समय आतंकियों को बिरयानी खिलाई जाती थी, लेकिन अब मोदी की सेना आतंकियों को गोली खिला रही है.  भारतीय सेना को मोदी की सेना बताने पर राजनीतिक दलों ने आपत्ति जताई. सपा, बसपा, कांग्रेस सहित अन्य विपक्षी दलों का कहना है कि चुनाव के समय सेना का राजनीतिकरण किया जा रहा है. 



loading...