लालू यादव को हाईकोर्ट से राहत, 20 अगस्त तक के लिए बढ़ी जमानत अवधि

मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड: सुप्रीमकोर्ट ने दिया मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर का मेडिकल टेस्ट कराने का आदेश

पटना विश्वविद्यालय छात्र संघ चुनाव में JDU के मोहित प्रकाश ने मारी बाजी, ABVP का 3 सीटों पर कब्जा

तेज प्रताप का तलाक की अर्जी लेने से इनकार, कोर्ट ने ऐश्‍वर्या को भेजा नोटिस

मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड: सुप्रीमकोर्ट से बिहार सरकार को बड़ा झटका, सीबीआई को सौंपी 17 शेल्टर होम केस की जांच

मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांड: सुप्रीमकोर्ट ने बिहार सरकार को लगाई फटकार, कहा- 24 घंटे में ठीक करें FIR

तलाक मामला: तेजप्रताप यादव ने ने ट्वीट कर बयां किया दिल का हाल, लिखा- ‘टूटे से फिर ना जुटे, जुटे गांठ परि जाये.'

2018-08-10_Lalu_Prasad_Yadav-bail.jpg

चारा घोटाले से जुड़े चार मामलों में दोषी ठहराए गए राजद प्रमुख लालू प्रसाद को झारखंड उच्च न्यायालय ने राहत देते हुए चिकित्सा कारणों से उनकी अस्थायी जमानत को 20 अगस्त तक के लिए बढ़ा दिया है. न्यायाधीश अप्रेश कुमार सिंह ने आज लालू प्रसाद की औपबंधिक जमानत को 20 अगस्त तक के लिए बढ़ाने का आदेश दिया.

लालू के अधिवक्ता प्रभात कुमार ने मीडिया को जानकारी देते हुए बताया,‘‘ हमने चिकित्सा आधार पर जमानत अवधि को तीन महीने बढ़ाने की अपील की थी.’’ उच्च न्यायालय ने 11 मई को लालू को छह सप्ताह की अस्थायी जमानत प्रदान की थी जिसे फिर से 14 अगस्त तक बढ़ा दिया गया था. चारा घोटाला मामले में सजा काट रहे बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री व राजद सुप्रीमो की औपबंधिक जमानत की अवधि अब 20 अगस्त तक के लिए बढ़ा दी गई है.

झारखंड हाईकोर्ट में शुक्रवार को उनकी जमानत पर सुनवाई हुई. कोर्ट ने उनकी मेडिकल रिपोर्ट पर सीबीआई से जवाब मांगा है. लालू प्रसाद की ओर से जमानत अवधि बढ़ाने के लिए हस्तक्षेप याचिका दायर की गई थी. इस मामले में अगली सुनवाई 17 अगस्त को होगी. इससे पहले हाईकोर्ट ने उनकी अस्थाई जमानत की अवधि को 6 हफ्ते के लिए बढ़ाया था. ये अवधि 15 अगस्त को खत्म होने वाली थी. 

लालू प्रसाद की मेडिकल रिपोर्ट पेश कर तीन महीने की जमानत मांगी थी लेकिन कोर्ट ने उनकी इस मांग को संशोधित करते हुए 6 हफ्ते के जमानत मंजूर की. कोर्ट ने 10 अगस्त को आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद की  मेडिकल रिपोर्ट फिर पेश करने का आदेश दिया था. सीबीआई के वकील राजीव सिन्हा ने सरकार का पक्ष रखते हुए कहा कि अब रिम्स में भी लालू प्रसाद का इलाज संभव है, एेसे में उनकी जमानत की अवधि बढ़ाए जाने का कोई औचित्य नहीं है अत: उनकी जमानत अवधि न बढाई जाए हालांकि कोर्ट ने उनकी इस दलील को खारिज कर दिया. इससे पहले 22 जून को लालू प्रसाद की बेल अवधि को 3 जुलाई तक के लिए बढ़ा दिया गया था.

6 हफ्ते की जमानत मिलने के बाद वे 16 मई को रांची से पटना गए थे. 11 मई को लालू प्रसाद को चारा घोटाले के तीन मामलों आरसी-68ए/96, आरसी- 38ए/96, आरसी-64ए/96 में 6 हफ्ते की सशर्त जमानत मिली थी. करोड़ों रूपये के चारा घोटाले के दोषी लालू प्रसाद का मुंबई के एशियन हार्ट इंस्टीट्यूट में इलाज चल रहा है. इस मामले में अगली सुनवाई 17 अगस्त को होगी. (इनपुट एजेंसी)



loading...