SC का आदेश, ताज की सुरक्षा पर योगी सरकार 4 हफ्ते में पेश करे विजन डॉक्यूमेंट

2018-02-08_taj-mahal-up-supreme-court.jpg

दुनिया के सात अजूबों में से एक ताजमहल के आसपास अचानक बढ़ी चमड़े की यूनिट पर सुप्रीम कोर्ट ने यूपी की योगी सरकार से जवाब मांगा है. कोर्ट ने योगी सरकार से पूछा है कि होटल लगातार ताजमहल के पास क्यों बनाए जा रहे हैं. आगरा में पानी की पाइपलाइन डालने के लिए 234 पेड़ काटने की अनुमति भी फिलहाल योगी सरकार को नहीं मिली. सुप्रीम कोर्ट में जस्टिस मदन बी लोकुर और जस्टिस दीपक गुप्ता की बेंच ने यूपी सरकार को चार हफ्ते के भीतर इस पर जवाब देने को कहा है.

ताजमहल के संरक्षण को लेकर इससे पहले हुई सुनवाई में भी सुप्रीम कोर्ट ने योगी सरकार से कहा था कि ताजमहल को कई सालों तक के लिए संरक्षित करने के लिए अस्थायी उपाय पर्याप्त नहीं होंगे. सुप्रीम कोर्ट ने योगी सरकार को कहा था कि आपको इमारत को 15 या 20 साल के लिए सुरक्षित नही करना बल्कि 300, 400 साल के लिए सुरक्षित करना है. बता दें कि ताज़महल को सुरक्षित रखने के लिए योगी सरकार को सुप्रीम कोर्ट में विजन डॉक्यूमेंट देना है.



loading...