चंडीगढ़: फेसबुक पर फैमिली ने घूमने का डाला स्टेटस, घरों में हो गई चोरी

2018-06-21_chandigarh.jpg

फेसबुक पर लोगों का स्टेटस देखकर घरों में चोरी करने के यहां तीन मामले सामने आए. गिरफ्तार हुए आरोपियों ने बताया कि वे बंद घरों के बाहर लगी नेम प्लेट के आधार पर फेसबुक पर नाम सर्च करते थे. परिवार कहां है यह पता करते थे. अगर वे शहर से बाहर हैं तो फिर उनके घर में चोरी की योजना बनाते थे.

चंडीगढ़ से करीब 7 किलोमीटर दूर मनीमाजरा के सेक्टर-46 में रहने वाले राकेश कुमार गर्मी की छुट्टियों में परिवार के साथ थाईलैंड गए थे. चोर ताले तोड़कर घर में घुसे और नकदी, मोबाइल, लैपटॉप और एलसीडी ले गए. इस मामले में पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ्तार किया. तीनों आरोपियों ने ग्रेजुएशन तक पढ़ाई की है. आरोपियों ने बताया कि घर के बाहर नेम प्लेट पर राकेश लिखा था. फेसबुक पर यह नाम सर्च करने पर पता चला कि परिवार बाहर है. इसके बाद ही चोरी की.

मनीमाजरा की ही बैंक कॉलोनी में रहने वाले अमित का कहना है कि वे परिवार के साथ शिमला गए थे. एक दिन बाद फोटो खींचकर फेसबुक पर अपलोड की. इसके अगले ही दिन घर से ज्वेलरी और कैश चोरी हो गया. चोर पकड़े गए तो उन्होंने बताया कि शिमला में परिवार के घूमने की फोटो देखकर वे समझ गए थे कि घर खाली है. इसलिए वे बेखौफ घर में घुस गए.

मनीमाजरा शांतिनगर में रहने वाले दिनेश का कहना है कि परिवार के साथ घूमने के लिए वृंदावन, मथुरा और आगरा गए थे. सभी ने ताजमहल के सामने फोटो खिंचवाई और फेसबुक पर अपलोड कर दी. नीचे स्टेटस भी लिखा कि परिवार के साथ आगरा घूम रहे हैं. दो दिन बाद पड़ोसियों का फोन आया कि आपके घर में चोरी हो गई है. जांच में बात सामने आई कि चोरों ने बंद घर देखा और नाम फेसबुक पर सर्च किया. फेसबुक से जब पता चला कि परिवार शहर में नहीं तो चोरी की.

मनीमाजरा थाने के एसएचओ रंजीत सिंह का कहना है कि सोशल वेबसाइट्स के जरिए चोरी की घटनाएं बढ़ रही हैं. ऐसे में लोग यात्रा से लौटकर ही इसकी जानकारी सोशल साइट्स पर साझा करें. कोशिश करें कि बाहर जाने पर घर पर किसी को छोड़कर जाएं. चंडीगढ़ पुलिस की साइबर सैल भी इस बारे में लोगों को जागरुक कर रहा है.



loading...