Epfo ने दी यह बड़ी राहत, अब 10 लाख रुपये से अधिक का क्लेम पर पलटा अपना यह पुराना नियम

2018-04-14_epfo65.jpg

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO ) ने अपने 5 करोड़ अंशधारकों को बड़ी राहत देते हुए क्लेम विथड्रॉल के लिए पहले से तय किए नियमों को पलट दिया है. शुक्रवार को EPFO ने 10 लाख रुपये से अधिक के क्लेम विथड्रॉल के लिए ऑनलआन क्लेम करने की बाध्यता को खत्म कर दिया है. अब कोई भी अंशधारक इसके क्लेम को ऑफलाइन भी कर सकेगा. इसके लिए सर्कुलर को भी जारी कर दिया गया है.  

EPFO के सर्कुलर के मुताबिक , कई लोगों को ऑनलाइन क्लेम विथड्रॉल को करने में काफी समस्या आ रही थी. ऐसे में नियम की फिर से समीक्षा की गई और पहले जारी किए गए नियमों में बदलाव किया गया है. अब सभी केस के लिए ऑफलाइन आवेदनों को भी स्वीकार किया जाएगा.  

हालांकि, क्लेम का वैरिफिकेशन पहले की तरह ऑनलाइन ही होगा. ऐसा इसलिए क्योंकि किसी भी अंशधारक के साथ धोखाधड़ी न हो. वैरिफिकेशन में कंपनी को 3 दिन के अंदर क्लेम को स्वीकार करने या फिर खारिज करने का अधिकार होगा.

वहीं, इससे पहले 28 फरवरी को EPFO ने नया नियम जारी किया था. पहले वाले नियम के अनुसार दस लाख रुपये से ज्यादा की पीएफ निकालने के लिए ऑनलाइन आवेदन ही किया जा सकेगा. EPFO के मुताबिक, यह पेपरलेस होने की दिशा में अगला कदम था. EPFO ने कर्मचारी पेंशन योजना 1995 के तहत पांच लाख रुपये से ज्यादा के दावे के लिए ऑनलाइन प्रक्रिया पहले ही अनिवार्य कर दी थी. अधिकारियों के मुताबिक केंद्रीय भविष्य निधि आयुक्त की अध्यक्षता वाली बैठक में 17 जनवरी को यह फैसला लिया गया था. 

श्रम मंत्रालय के एक बयान में कहा गया है कि डिजिटल इंडिया की ओर आगे बढ़ते हुए EPFO ने डिजिटल नोमिनेशन सुविधा की भी शुरुआत की है. यह सुविधा EPFO पोर्टल पर दर्ज सदस्यों को मिलेगी. उमंग या ‘यूनिफाइड मोबाइल एप्लिकेशन एक ऐसा एप है, जिसे सरकार ने सभी सरकारी सेवाओं को एक स्थान पर प्राप्त करने के लिए लांच किया है.
 



loading...