घरेलू उपाय से प्रेगनेंसी रोकने के लिए खाएं यह चीज, साइड इफेक्ट की दिक्कत नहीं

2018-07-13_pregnancy.jpg

अक्सर महिलाएं अपनी प्रेगनेंसी को रोकने के लिए बाजार में मिलने वाली तरह-तरह की गर्भनिरोधक दवाइयों का सहारा लेती हैं. लेकिन इन दवाईयों से कई साइड इफेक्ट होते हैं जिसका असर उनके शरीर पर बाद में देखने को मिलता है. अगर आप बिना किसी साइट इफेक्ट के प्राकृतिक तरीके से अपनी प्रेग्नेंसी को रोकना चाहती हैं तो आयुर्वेद के पास आपकी परेशानी का हल मौजूद है. यह भी पढ़ें: पार्टनर को धोखा देते वक्त ज्यादातर पुरुषों में देखने को मिलते हैं ये 11 बदलाव

आइए जानते हैं कैसे: यह भी पढ़ें: सेक्स का भरपूर आनंद उठा सकते है, इन तरीकों से बरसात के मौसम में

आयुर्वेद में अरंडी यानी (कैस्टर) के बीच को सबसे बढ़िया गर्भनिरोधक तत्व माना गया है. इसका इस्तेमाल करने के लिए सबसे पहले अरंडी के बीज को फोड़ें. उसके बाद उसमें मौजूद सफेद बीज को निकालें. इस बीज को एक गिलास पानी के साथ खा लें. यह भी पढ़ें: अगर आपकी जिंदगी से रोमांस गायब हो गया है तो अपनायें ये 5 तरीके

अरंडी के बीज का इस्तेमाल आप संबंध बनाने के 72 घंटे के अंदर गर्भनिरोधक गोलियों के रूप में कर सकती है. अगर महिलाएं सेक्स करने के 72 घंटे के भीतर इस बीज का सेवन करती हैं तो यह एक कॉन्ट्रासेप्टिव पिल की तरह ही गर्भधारण रोक सकता है. यह भी पढ़ें: ये फूड बढ़ते हैं स्पर्म काउंट, आप भी इस्तेमाल करें

अगर कोई महिला इस बीज का सेवन पीरियड्स के समय तीन दिनों तक करे तो एक महीने तक इसका प्रभाव रहेगा. यह भी पढ़ें: शादी की पहली रात भूल कर भी ना करें ये 5 गलतियां

कॉन्ट्रासेप्टिव पिल की तरह अरंडी के बीज का इस्तेमाल का वैसे तो कोई साइड इफेक्ट नहीं है बावजूद इसके इस तरीके का इस्तेमाल करने से पहले आप अपने फैमिली डॉक्टर और आयुर्वेदिक विशेषज्ञों से एक बार सलाह जरूर लें. यह भी पढ़ें: ऐसे करें सेंसिटिव एरिया की शेविंग, करें फोलो इन 8 स्टेप को



loading...