सिंगापुर के सेंटोसा द्वीप में होगी ट्रंप-किम की मुलाकात, अमेरिका नहीं उठाएगा किम का खर्चा

2018-06-06_traump.jpg

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प और उत्तर कोरियाई तानाशाह किम जोंग-उन के बीच 12 जून को प्रस्तावित मुलाकात सिंगापुर के दक्षिण में स्थित सेंटोसा आइलैंड में होगी. ट्विटर पर की गई पोस्ट में व्हाइट हाउस की प्रवक्ता सारा सैंडर्स ने कहा कि दोनों देशों के नेताओं के मुलाकात के लिए सेंटोसा द्वीप में स्थित कपेला होटल को चुना गया है. उन्होंने सिंगापुर के नागरिकों को उनकी मेहमानबाजी के लिए भी धन्यवाद किया है. बता दें कि दोनों नेताओं के बीच में यह मुलाकात सिंगापुर के समय के मुताबिक, सुबह 9 (भारतीय समयानुसार सुबह 6:30) बजे शुरू होगी.

अमेरिकी विदेश विभाग ने साफ कर दिया है कि वो उत्तर कोरियाई अधिकारियों के सिंगापुर में रुकने का खर्च नहीं उठाएगा. विदेश विभाग की सचिव हीदर नाउर्ट ने कहा कि अमेरिकी सरकार ऐसे किसी भी खर्चे को नहीं उठाएगी. बता दें कि किम 5 सितारा फुलर्टन होटल में रुकना चाहते हैं. इसका एक रात का किराया चार लाख रुपए है और किम के साथ बड़ा प्रतिनिधिमंडल आ रहा है. तंगहाली से जूझ रहा उत्तर कोरिया चाहता है कि होटल का खर्च कोई और देश उठाए. अमेरिका के लिए इसका खर्च उठाने में कानूनी दिक्कत है क्योंकि उसने उत्तर कोरिया पर कई तरह के प्रतिबंध लगाए हुए हैं.

हालांकि, नोबेल विजेता परमाणु विरोधी संगठन आईकैन पहले ही अमेरिका और उत्तर कोरिया के नेताओं के बीच 12 जून को सिंगापुर में होने वाली बैठक का पूरा खर्च उठाने की पेशकश कर चुका है. इसमें उ. कोरिया के नेता किम जोंग उन के होटल का बिल भी है जो कि पेंच का मसला बना हुआ है. 



loading...