तेल की बढ़ती कीमतों से कब मिलेगी राहत, दिल्ली में 74.35 रुपए प्रति लीटर डीजल, आज पेट्रोल के दामों में कोई इजाफा नहीं

2018-10-10_DieselPriceHike.jpg

बुधवार को ईधन के दामों में एक बार फिर उछाल देखने को मिला. आज डीजल के दामों में 25 पैसे प्रति लीटर तक की बढ़ोत्तरी की गई. बुधवार को दिल्ली में डीजल के दामों में 24 पैसे का इजाफा हुआ. इस बढ़ोत्तरी के साथ दिल्ली में डीजल की कीमत 74.35 रुपये प्रति लीटर हो गई. और मुंबई में यही तेजी 25 पैसे की देखने को मिली. यहां डीजल के दाम 77.93 रुपये प्रति लीटर हो गया. हालांकि पेट्रोल के दाम मंगलवार की सुबह के बाद से स्थिर बने हुए हैं.

मंगलवार को दिल्ली में पेट्रोल के दामों में 23 पैसे प्रति लीटर तो डीजल के दामों में 29 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी दर्ज की गई. इससे दिल्लीड में पेट्रोल 82.26 रुपये प्रति लीटर और डीजल 74.11 रुपये प्रति लीटर हो गया. डीजल की कीमतों में इजाफे से वाहनों के किराए में बढ़ोत्तरी की आशंका है, जिसका सीधा असर लोगों के घरेलू बजट पर पड़ेगा. जरूरी चीजों के दामों में महंगाई देखने को मिलेगी.

पेट्रोल-डीजल की कीमतों से आम आदमी का राहत पहुंचाने के लिए सरकार ने पेट्रोल-डीजल से एक्साइज ड्यूटी 1.50 रुपये प्रति लीटर तक की कटौती करने की घोषणा की थी. और पेट्रोलियम कंपनियों से एक रुपये लीटर दाम कम करने को कहा था. लेकिन आर्थिक जानकारों का कहना है कि सरकार के इस कदम से देश का राजकोषीय घाटा तो बढ़ेगा ही साथ ही इसका विपरीत असर देश की जीडीपी पर भी पड़ेगा.

मूडीज इन्वेस्टर सर्विस ने कहा कि इससे न केवल सरकार का राजस्व घटेगा बल्कि मार्च, 2019 को समाप्त होने वाले वित्त वर्ष में राजकोषीय घाटा भी बढ़कर सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) के 3.4 प्रतिशत पर पहुंच सकता है. सरकार को इस कदम से 10,500 करोड़ रुपये के राजस्व का नुकसान होगा.



loading...