धनतेरस के दिन करें ये 5 उपाय, मां लक्ष्मी की कृपा से होगी धन की प्राप्ति

2018-11-02_DhantersTotke.jpeg

कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी को धनतेरस का पर्व मनाया जाता है. इस बार धनतेरस 5 नवंबर दिन सोमवार को है. धनतेरस पर हर कोई चाहता है कि मां लक्ष्मी उस पर अपनी कृपा बनाए रखें. इसके लिए लोग तमाम उपाय और तरीके आजमाते हैं. इस दिन ये आसान से उपाय कर लेने चाहिए.

साबुत धनिया से देवी होंगी प्रसन्न- पांच रुपये का साबुत धनिया खरीद कर धनतेरस को लाएं और मां लक्ष्मी और भगवान धनवंतरी के चरणों में रखें. साथ ही भगवान से अपनी मेहनत के बल पर मिलने वाले धन की मांग करें और ये जरूर मिलेगा. बाद में इस धनिया को प्रसाद के रूप में वितरित भी करें.

मां लक्ष्मी का प्रिय भोग है बताशा- पांच रुपये का बताशा खरीदें. बताशा मां का सबसे प्रिय भोग है. सफेद बताशा धनतेरस पर ही खरीदें और उसे उसी दिन मां को चढ़ाएं. सफेद रंग मां को प्रिय है और जब उनके भोग भी सफेद होता है तो उनकी प्रसन्नता ज्यादा बढ़ती है. मां को सच्चे मन से प्रसाद चढ़ाएं और प्रार्थना करें कि जो धन आपके लिए है वह उन्हें जरूर दें.

इस दिशा में दीपक जलाएं- धनतेरस से दीप जलाने की प्रक्रिया शुरू हो जाती है लेकिन इस दिन खास कर एक दीपक रात में दक्षिण की ओर मुख करके जलाएं. एक बात याद रखें इस दीपक को खाने पीने के बाद जलाएं और जलाने के बाद इसे मुड़ कर न देखें. ये अकाल मृत्यु से बचा कर घर के लोगों को निरोग रखता है. एक बात ध्यान रखें कि ये दीपक पांच रुपये का हो.

मां को कुमकुम जरूर लगाएं- पांच रुपये का कुमकुम लें और उसे मां के चरणों में रखें और उसे मां को लगाकर खुद भी लगाएं. मां के कुमकुम में बहुत दम होता है. इसे लगाने के बाद आपमें आत्मविश्वास आएगा और ये धन की वर्षा भी कराएगा. जब भी किसी काम के लिए निकलें मां को चढ़ाए कुमकुम को जरूर लगा लें.

मां लक्ष्मी के पदचिन्ह घर लाएं- घर के मुख्य द्वार पर मां लक्ष्मी के पदचिन्ह लगाएं. पांच रुपये में ही ये पदचिन्ह खरीदें. धनतेरस पर इसे खरीदें और दीवाली वाले दिन इसे लगाएं. मां के घर में आने का ये संकेत होता है. सबसे पहले मां के चरणचिन्ह पर आरती करें और कुमकुम लगाकर उन्हें अपने घर में आमंत्रित करें. ये आपके घर में सौभाग्य का दरवाजा खोलने वाला कदम होगा.



loading...