विवेक तिवारी हत्याकांड: योगी सरकार ने कल्पना तिवारी को लखनऊ नगर निगम का OSD बनाया

भारतीय सेना का जवान जासूसी के आरोप में मेरठ छावनी से गिरफ्तार, पूछताछ में किया बड़ा खुलासा

लखनऊ में आशीष पांडेय की गिरफ्तारी के लिए ताबड़तोड़ छापेमारी, कई गेस्ट हाउस और होटल में दिल्ली पुलिस का छापा

अब प्रयागराज के नाम से जाना जाएगा इलाहाबाद, योगी कैबिनेट ने दी मंजूरी

उत्तर प्रदेश के रायबरेली में बड़ा रेल हादसा, पटरी से उतरी न्यू फरक्का एक्सप्रेस, 7 की मौत, यह हैं एमरजेंसी नंबर

गुजरात पलायन पर मायावती ने कहा- जिन लोगों ने मोदी जी को पीएम बनाया उन्ही पर निशाना

यूपी: ब्लैक डे मनाने के बाद अब पोस्ट में लिखा, न करेंगे ट्रैफिक कंट्रोल, क्राइम होने नहीं करेंगे कार्यवाही

2018-10-11_KalpnaTiwriAppinmentLetter.jpg

उत्तर प्रदेश की राजधानी के बहुचर्चित विवेक तिवारी हत्याकांड मामले में मृतक की पत्नी को सीएम योगी की भाजपा सरकार ने नौकरी देने का वादा किया था. सरकार के वादे के अनुपालन में उन्हें नगर निगम का विशेष कार्य आधिकारी (OSD) बनाया गया है.

उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा ने कल्पना तिवारी को नियुक्ति पत्र सौंपा. इस अवसर पर मीडिया से मुखातिब कल्पना तिवारी ने अपने पति की हत्या को लेकर हो रही जांच पर संतुष्टि जताई.

आपको बता दें कि कल्पना के पति की सिपाही प्रशांत चौधरी ने सर्विस पिस्टल से गोली मारकर उस वक्त हत्या कर दी थी जब वह अपनी साथी सना खान को उसके घर ड्राप करने जा रहे थे. आपको बता दें कि कुछ दिन पहले डिप्टी सीएम डॉ. दिनेश शर्मा मृतक के घर पर गए थे. उसके बाद पीड़िता को अपनी कार से लेकर सीएम योगी के सरकारी आवास 5- कालिदास मार्ग पहुंचे थे. सीएम योगी ने मृतक विवेक तिवारी की पत्नी कल्पना व उनके भाई विष्णु तिवारी से मुलाकात में पूरी सहानुभूति दिखाते हुए मदद का भरोसा दिया था.

पीड़ित परिवार की सीएम से मुलाक़ात के बाद डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने कहा था कि आरोपी के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई होगी. उसे बर्खास्त करके जेल भेज दिया गया है. उन्होंने कहा मुख्यमंत्री ने पीड़िता के बच्चों के भविष्य की चिंता करते हुए उनकी पढाई के लिए पांच-पांच लाख रूपये डिपॉजिट किए साथ ही विवेक की मां के नाम भी पांच लाख की एफडी कराई.



loading...