नोटबंदी को एक साल पूरा, आज बीजेपी मनाएगी जश्न, कांग्रेस निकालेगी विरोधी रैली

2017-11-08_rahul.jpg

आज सरकार द्वारा लिए गए नोटबंदी के फैसले को एक वर्ष पूरा हो चुका है. पिछले वर्ष 8 नवंबर 2016 को मोदी सरकार ने 500 और 1000  के नोटों पर बैन लगा दिया था. जिसके बाद आम जनता को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा था.

विपक्षी पार्टियों ने इस मुद्दे का जमकर विरोध किया था, लेकिन सरकारी फैसले के सामने किसी की नहीं चली. बुधवार को नोटबंदी के एक वर्ष पूरा होने पर कांग्रेस और आम आदमी पार्टी ने इस दिन को काला दिवस के रूप में मनाने की घोषणा की है. 

कांग्रेस समेत कई विपक्षी पार्टियां पूरे देश में नोटबंदी के फैसले के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करेंगी. वहीं बीजेपी नोटबंदी के फैसले को ऐतिहासिक बताते हुए बुधवार को एंटी ब्लैक मनी डे (काला धन विरोधी दिवस) के रूप में मनाने की तैयारी में है.

भाजपा के कई मंत्री देश के कई राज्यों में जाकर नोटबंदी के फायदे गिनाएंगे. केन्द्र सरकार के कई मंत्री गुजरात जा रहे हैं. केन्द्रीय दूर संचार मंत्री मनोज सिन्हा ने बनारस और गाजीपुर का रुख किया है तो नई दिल्ली में केन्द्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली मंगलवार से ही मोर्चा संभाले बैठे हैं.

वहीं, राहुल गांधी इस मौके पर गुजरात के सूरत में व्यापारियों से बातचीत करेंगे और एक जुलूस में हिस्सा लेंगे. आपको बता दें कि गुजरात में विधानसभा चुनाव के लिए मतदान 9 और 14 दिसंबर को होना है. नोटबंदी को मुद्दा बनाकर राहुल गांधी गुजरात चुनाव को साधने की कोशिश करेंगे. 

दिल्ली में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और महासचिव गुलाम नबी आजाद, पीसी चाको और अजय माकन नोटबंदी के विरोध में विजय चौक पर मानव श्रृंखला बनाकर उसका नेतृत्व करेंगे. वहीं शरद यादव ने कहा कि हम पिछले वर्ष हुई इस नोटबंदी के खिलाफ हैं, कांग्रेस भी नोटबंदी का पूरे देश में विरोध कर रही है.



loading...