ताज़ा खबर

बैंक फ्राड मामले में कमलनाथ के भांजे रतुल पुरी को कोर्ट ने 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा

वायुसेना विंग कमांडर ने अमित शाह बनकर मध्यप्रदेश के राज्यपाल को किया फोन, STF ने किया गिरफ्तार

सावरकर मसले पर हिंदू महासभा का हमला, हमने भी सुना है राहुल गांधी समलैंगिक हैं

Video: भाजपा सांसद प्रज्ञा ठाकुर के खिलाफ माखनलाल चतुर्वेदी यूनिवर्सिटी में लगे ‘आतंकवादी वापस जाओ’ के नारे

मध्यप्रदेश: पचमढ़ी आर्मी कैंप से राइफलें लेकर फरार हुए अज्ञात बदमाश, इलाके में हाईअलर्ट जारी

मध्यप्रदेश के रीवा में भीषण सड़क हादसा, बस-ट्रक की जोरदार टक्कर में 5 लोगों की मौत, 7 घायल

पूर्व लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन ने कहा- भाजपा सरकार होने के बाद भी जरुरी मुद्दे कांग्रेसी नेताओं के जरिए उठाती थी

2019-09-03_RatulPuri.jpg

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के भांजे रतुल पुरी को दिल्ली की राउस एवेन्यू कोर्ट ने 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है. अगस्ता वेस्टलैंड हेलिकॉप्टर घोटाले में दिल्ली की राउज एवेन्यू कोर्ट ने बिजनेसमैन रतुल पुरी की सरेंडर करने की याचिका पर सुनवाई करते हुए तिहाड़ जेल के सुपरिटेंडेंट को 3 बजे रतुल पुरी को कोर्ट में पेश करने का आदेश देते हुए प्रोटक्शन वारंट जारी किया. 

कोर्ट पुरी सरेंडर की याचिका पर बुधवार को फैसला सुनाएगा. वहीं 354 करोड़ के बैंक फ्राड मामले में प्रवर्तन निदेशालय की रिमांड खत्म होने पर कोर्ट ने रतुल पुरी को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है.

जानिए क्या है पूरा मामला?-

मोयर बेयर कंपनी के 354 करोड़ रुपए के बैंक फ्रॉड मामले में रतुल पुरी पर कार्रवाई की गई. सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया की शिकायत पर सीबीआई ने रतुल पुरी और 4 अन्य लोगों के खिलाफ रविवार को केस दर्ज किया गया. इस मामले में ईडी ने प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट के तहत मामला दर्ज कर पुरी को गिरफ्तार किया.

रतुल पुरी ने 2012 में मोजर बेयर के डायरेक्टर पद से इस्तीफा दे दिया था.। हालांकि, उनके पिता दीपक पुरी और मां नीता पुरी अभी भी कंपनी के बोर्ड में बने हुए हैं. सीबीआई ने दीपक, नीता के अलावा मोजर बेयर से संबंधित संजय जैन और विनीत शर्मा के खिलाफ भी केस दर्ज किया था. सभी के ठिकानों पर छापे की कार्रवाई भी की गई थी.



loading...