लद्दाख दौरे पर पहुंचे रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, लेह में 26वें किसान-जवान- विज्ञान मेले का किया उद्घाटन

2019-08-29_RajnathSingh.jpeg

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह गुरुवार को लद्दाख पहुंचे. इस दौरान लेह में उन्होंने 26वें किसान-जवान- विज्ञान मेले का उद्घाटन किया. आपको बता दें कि राजनाथ सिंह का यह दौरा काफी खास है. अनुच्छेद 370 हटने के बाद यह उनका पहला दौरा है.

उद्घाटन समारोह में काफी संख्या में स्थानीय लोगों के साथ जवान भी मौजूद रहे. राजनाथ सिंह ने इस दौरान किसानों, जवानों और विज्ञान के क्षेत्र में सराहनीय काम करने वाले लोगों को संबोधित किया. सूत्रों के मुताबिक कार्यक्रम का आयोजन लद्दाख के स्थानीय लोगों के साथ शोध जनित कृषि प्रौद्योगिकी को साझा करने के लिए किया जा रहा है. जिसमें रक्षा अनुसंधान विकास संगठन द्वारा विकसित कृषि उत्पादों की प्रदर्शनी शामिल है. साथ ही वह बीज, अनाज, फल और सब्जियां शामिल हैं जोकि ऊंचाई वाले इलाके में उगाई जाती हैं. इस विज्ञान मेले का आयोजन डिफेंस इंस्टीट्यूट ऑफ हाई एल्टीट्यूड रिसर्च द्वारा किया गया है.

वहीं सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को माकपा नेता सीताराम येचुरी को जम्मू-कश्मीर का दौरा करने की इजाजत दी थी. हालांकि, मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई की पीठ ने येचुरी को इजाजत देते हुए उन्हें हिदायत भी दी कि वह अपने दौरे का इस्तेमाल राजनीतिक उद्देश्य के लिए न करें.

आज यानी कि बृहस्पतिवार को येचुरी भी कश्मीर दौरे पर रहेंगे. साथ ही अपनी पार्टी के सहयोगी और पूर्व विधायक मोहम्मद यूसुफ तारिगामी से मिलेंगे. तारिगामी फिलहाल अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद से ही नजरबंद हैं. 

राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने बुधवार को राज्य के युवाओं के लिए एक बड़ी घोषणा करते हुए कहा है कि आने वाले दो से तीन माह में राज्य के विभिन्न विभागों में 50 हजार पदों पर नियुक्तियां की जाएंगी. कहा कि हर कश्मीरी का जीवन हमारे लिए मूल्यवान है. राष्ट्र विरोधी ताकतों के लिए इंटरनेट आसान हथियार है इसलिए इन कनेक्शनों की बहाली कुछ और समय तक स्थगित रहेगी.

राज्यपाल ने राज्य से जुड़े हर विषय पर खुलकर राज्य प्रशासन का पक्ष रखते हुए कहा कि यह बड़ी बात है कि अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद से पनपे हालातों के बावजूद कोई नागरिक हताहत नहीं हुआ है. हां, कुछ हिंसा फैलाने वाले जरूर घायल हुए हैं. केंद्र सरकार द्वारा 370 को हटाने का लिया गया फैसला पूरे प्रदेश के हित में है.


 



loading...