ताज़ा खबर

PNB फ्रॉड मामले में ईडी को बड़ी कामयाबी, मेहुल चोकसी के साथी दीपक कुलकर्णी को किया गिरफ्तार

Lok Sabha Election: बीजेपी में शामिल हुईं पैरालंपिक खेलों की पदक विजेता दीपा मलिक, PM मोदी की प्रशंसा में कही ये बात

रेलवे के बाद अब एयर इंडिया के बोर्डिंग पास पर छपी पीएम मोदी की तस्वीर, यात्रियों ने उठाए सवाल

कांग्रेस ज्वाइन करने से इनकार करने के बाद मनोज तिवारी से सपना चौधरी ने की मुलाकात, बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष बोले- 2-3 दिन में आएगी अच्छी खबर

लोकसभा चुनाव के लिए राहुल गांधी का बड़ा वादा, कांग्रेस की सरकार बनी तो गरीब परिवारों के खाते में आयेंगे 12 हजार रुपए महीना

भारतीय वायुसेना की ताकत में हुआ इजाफा, लादेन का सर्वनाश करने वाला 'चिनूक' हेलीकॉप्टर बेड़े में हुआ शामिल

Lok Sabha Eleciton 2019: भाजपा ने जारी की 11 उम्मीदवारों की एक और लिस्ट, कैराना से हुकुम सिंह की बेटी का टिकट कटा

2018-11-06_DeepakKulkarni.jpg

पंजाब नेशनल बैंक को करोड़ों रुपये का चूना लगाने के बाद विदेश भाग चुके हीरा कारोबारी मेहुल चोकसी के मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) को बड़ी सफलता मिली है. ईडी ने चोकसी के साथी को कोलकाता हवाई अड्डे पर गिरफ्तार कर लिया है. वह हांगकांग से वापस आ रहा था. कुलकर्णी चोकसी की हांगकांग में चलाई जा रही फर्जी कंपनी का निदेशक है. उसके खिलाफ सीबीआई और ईडी ने पहले से ही लुक आउट नोटिस जारी किया हुआ था.

इससे पहले 31 अक्टूबर को मेहुल चोकसी ने कहा था कि मैं बीमार हूं और इस वजह से 41 घंटे लंबी यात्रा करके नहीं आ सकता. यह कारण बताते हुए फरार हीरा कारोबारी मेहुल चोकसी ने अदालत के सामने ईडी की तरफ से उसे भगोड़ा आर्थिक अपराधी घोषित करने का विरोध जताया था. अदालत ने इस मामले में ईडी को जवाब दाखिल करने का निर्देश दिया है. मामले की अगली सुनवाई 17 नवंबर को होनी है.

बीते मंगलवार को चोकसी की तरफ से मनी लांड्रिंग एक्ट की विशेष अदालत में दाखिल किए गए 10 में से एक प्रार्थना पत्र में उसने कहा था कि वह दिमाग में खून का थक्का होने व स्वास्थ्य से जुड़े अन्य कारणों के कारण 41 घंटे लंबी यात्रा करते हुए भारत नहीं आ सकता है. चोकसी ने यह प्रार्थना पत्र अपने वकील संजय अबाट के जरिए जज एमएस आजमी के सामने दाखिल किए थे, जिसमें उसका मुख्य जोर अपने खिलाफ ईडी की तरफ से भगोड़ा आर्थिक अपराधी अधिनियम (फेओआ) के तहत दाखिल शिकायत को स्वास्थ्य कारणों से खारिज कराने पर था.

चोकसी ने अपने प्रार्थना पत्र में लिखा था कि वह 2012 से दिमाग में खून के थक्के से पीड़ित है और उसे पिछले 20 साल से मधुमेह की भी शिकायत है. इसके अलावा उसे दिल की भी कई तरह की समस्याओं से जूझना पड़ रहा है. इतनी सारी परेशानियों के कारण उसने खुद को 41 घंटे लंबी हवाई यात्रा करने लायक नहीं बताया था. लेकिन सोचनी वाली बात यह है कि वह भारत इस बीमारी की वजह से आ नहीं सकता तो चला कैसे गया था. वह सभी को गुमराह कर रहा है.



loading...