दिल्ली : माफिया ने महिला को सरेआम कपड़े फाड़कर घुमाया, शराब बेचने की शिकायत पर थे नाराज

2017-12-08_delhi65.jpg

दिल्ली में महिला आयोग की वॉलेंटियर (33) को बेइज्जत करने का मामला सामने आया है. आरोप है कि नरेला इलाके में अवैध शराब बेचने की शिकायत के बाद पुलिस-डीसीडब्ल्यू की कार्रवाई से माफिया नाराज थे. बदला लेने के लिए उन्होंने गुरुवार को महिला को बीच सड़क पर जमकर पीटा. आरोपियों ने उसके कपड़े तक फाड़ डाले. 

महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति जयहिंद ने कहा कि माफियाओं ने महिला को लोहे की रॉड से पीटा और न्यूड कर गलियों में घुमाया. पुलिस कब तक शराब माफियाओं का साथ देती रहेगी. उधर, शुक्रवार को पुलिस ने 4 आरोपी महिलाओं को गिरफ्तार किया है.

फिलहाल, पीड़ित महिला दिल्ली के हॉस्पिटल में भर्ती है. शुक्रवार को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने उसका हालचाल लिया. वहीं, घटना को लेकर सोशल मीडिया में हंगामा मचा रहा. इस बीच, अरविंद केजरीवाल ने गुरुवार रात 8 बजे तक 20 ट्वीट को रीट्वीट किए. सीएम ने एलजी से दोषी पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है.

डीसीपी, रोहिणी रजनीश गुप्ता के मुताबिक, पीड़ित महिला अपने परिवार के साथ नरेला इलाके में रहती है. वह महिला नशा मुक्ति के लिए काम करती है. उन्होंने इलाके में घरों में अवैध शराब बेचने वाले लोगों की शिकायत महिला आयोग से की थी. इसके बाद महिला आयोग की अध्यक्ष ने पुलिस टीम के साथ छापेमारी कर भारी मात्रा में शराब बरामद की.

एक वीडियो में पीड़िता ने कहा कि मैंने गाड़ी छोड़कर जान बचाने के लिए वहां से भागने की कोशिश की, लेकिन इज्जत नहीं बचा पाई. उन्होंने मेरे कपड़े फाड़े, सबके सामने बेइज्जत किया. इसी हालत में घसीटते हुए जहां शराब पकड़ी थी, वहां तक लेकर गए. मुझे लोहे की रॉड से भी पीटा. मैंने कोई गुनाह नहीं किया, मैं तो नशे के खिलाफ जंग लड़ रही थी.



loading...