ताज़ा खबर

बच्चों को पतला करना है तो दबाके पिलाओ गाय का दूध

2018-05-28_cow-milk.jpg

इस दुनिया की सबसे खतरनाक परेशानी का नाम है मोटापा. अगर ये मोटापा बच्चों को हो फिर तो और भी बड़ी परेशानी. आपका बच्चा मोटापे से परेशान है तो हर रोज दिन में दो बार गाय के दूध पिलायें. इससे कम फास्टिंग इंसुलिन के बनने की संभावना रहती है. इस शोध से ज्ञात हुआ है कि जिन बच्चों ने हर दिन एक कप से कम दूध पीया, उनमें दिन में दो कप दूध या इससे कम पीने वालों की तुलना में फास्टिंग इंसुलिन का स्तर ज्यादा रहा. यह बेहतर ब्लड शुगर नियंत्रण का संकेत देता है. ब्लड शुगर मेटाबोलिक सिंड्रोम के खतरे का कारक होता है.

ये कारण पांच हालातों में से कम से कम तीन की मौजूदगी से परिभाषित किया जाता है. इसमें मधुमेह, दिल की बीमारियां व स्ट्रोक, उच्च रक्त चाप, ब्लड शुगर का उच्च स्तर या ट्राईग्लिसराइड, अत्यधिक पेट की वसा व कम कोलेस्ट्रॉल का स्तर बढ़ने का खतरा होता है.

अमेरिका के टेक्सास हेल्थ साइंस सेंटर के माइकल याफी की माने, “जरुरत के मुताबिक दूध पीने वाले मोटापाग्रस्त बच्चों में शुगर का नियंत्रण अनुकूल रहा और यह मेटाबोलिक सिंड्रोम के खिलाफ रक्षा करने में मददगार साबित हो सकता है.”

इस शोध में 353 मोटापाग्रस्त बच्चों को शामिल किया गया. इनकी आयु तीन से 18 साल रही और इनके रोजाना के दूध सेवन का रिकॉर्ड रखा गया. इसमें दूध के प्रकार, शुगर लेने व फास्टिंग ब्लड ग्लूकोज व इंसुलिन संवेदनशीलता शामिल थीं.

इसलिए यदि आप बचपन से ही अपने बच्चे के दूध पीने की आदतों पर गौर करेंगी तो मोटापे की समस्या दूर रहेगी.



loading...