राफेल की शस्त्र पूजा पर कांग्रेस में दो फाड़, संजय निरुपम ने खड़गे को बताया नास्तिक

2019-10-09_KhargeNirupam.jpg

देश का पहला राफेल रिसीव करने के बाद केंद्रीय रक्षामंत्री राजनाथ सिंह की ओर से उसकी शस्त्र पूजा किए जाने पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने इसपर सवाल खड़े किए हैं, जिसके जवाब में उन्हें अपनी ही पार्टी के नेता संजय निरुपम ने खरी-खरी सुना दी है. मुंबई कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष संजय निरुपम ने मीडिया से बातचीत में कहा कि शस्त्र पूजा कोई तमाशा नहीं है. शस्त्र पूजा भारतीय समाज की परंपरा है. समस्या यह है कि मल्लिकार्जुन खड़गे नास्तिक हैं, कांग्रेस पार्टी में ज्यादातर लोग नास्तिक हैं.

आपको बता दें कि पिछले कुछ समय से संजय निरुपम कांग्रेस में बागी तेवर अपनाए हुए हैं. लोकसभा चुनाव के दौरान उन्हें टिकट नहीं दिया गया था, जिसके बाद राज्य में चल रहे महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में भी उन्हें और उनके समर्थकों को टिकट नहीं दिया गया है, इस बात से वह काफी नाराज हैं. पिछले दिनों उन्होंने कहा था वह विधानसभा चुनाव में पार्टी के लिए प्रचार नहीं करेंगे. साथ ही संजय निरुपम आरोप लगा चुके हैं कि मल्लिकार्जुन खड़गे जैसे नेता कांग्रेस में युवाओं को बढ़ने नहीं देना चाहते हैं.
 



loading...