तेलंगाना कांग्रेस में कलह, पार्टी के झंडे और अन्य चुनाव प्रचार सामग्री में नेता ने लगाई आग

डोनाल्ड ट्रंप जाहिल, पीएम मोदी फादर ऑफ इंडिया नहीं हो सकते: असदुद्दीन ओवैसी

धोखाधड़ी के मामले में कांग्रेस नेता रेणुका चौधरी के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी

चंद्रबाबू नायडू को बड़ा झटका, बीजेपी में शामिल हुए TDP के 60 नेता, नड्डा ने कहा- 31 दिसंबर से पहले मिलेगा नया राष्ट्रीय अध्यक्ष

तेलंगाना: स्कूल में मॉनिटर का चुनाव हारने की वजह से 13 साल के छात्र ने की खुदखुशी, रेलवे ट्रैक से शव बरामद

तेलंगाना में कांग्रेस को बड़ा झटका, पार्टी छोड़ टीआरएस में शामिल होंगे 12 विधायक

चुनाव आयोग ने तेलंगाना में 62 लोगों के चुनाव लड़ने पर लगाई रोक, पिछली बार नहीं दी थी सही जानकारी

2019-03-18_CongressLeader.jpg

लोकसभा चुनाव 2019 के लिए सभी पार्टियां तैयारियों में जुटी हुईं हैं. तेलंगाना में कांग्रेस के लिए सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है. लोकसभा चुनाव के पहले तेलंगाना में कांग्रेस के छह विधायकों का पार्टी छोड़कर सत्तारूढ़ टीआरएस में शामिल होना पार्टी के लिए झटका है. वहीं टीपीसीसी के अध्यक्ष यूके रेड्डी द्वारा मेरे काम को मान्यता नहीं देने से निराश एक कांग्रेस नेता ने पार्टी के झंडे और अन्य चुनाव प्रचार सामग्री में आग लगा दी.

हैदराबाद में कांग्रेस नेता कृष्णक ने पार्टी के झंडे और अन्य चुनाव प्रचार सामग्री में आग लगा दी. उन्‍होंने कहा कि, "मैंने कांग्रेस पार्टी से इस्तीफा दे दिया क्योंकि मैं टीपीसीसी के अध्यक्ष यूके रेड्डी द्वारा मेरे काम को मान्यता नहीं देने से निराश था. मैं तेलंगाना में के टी रामाराव की उपस्थिति में टीआरएस में शामिल हो जाऊंगा" आपको बता दें दो मार्च को दो कांग्रेस विधायकों आर के राव (पिनापका) तथा अतराम सक्कू (आसिफाबाद) ने ऐलान किया था कि उन्होंने अनुसूचित जनजातियों खासकर आदिवासियों के कल्याण तथा विकास के हित में सत्ताधारी टीआरएस में शामिल होने का फैसला किया है.

विधान परिषद में पांच रिक्तियों को भरने के लिए 12 मार्च को हुए चुनाव से पहले कांग्रेस को यह झटका लगा. कांग्रेस ने चुनाव में एक उम्मीदवार खड़ा किया था. टीआरएस ने अपने चार प्रत्याशी खड़े किए थे और एक सीट अपने सहयोगी दल असदुद्दीन ओवैसी की एआईएमआईएम के लिए छोड़ दी थी. प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष एन उत्तम कुमार रेड्डी ने अपने विधायकों के दल बदलने के लिए टीआरएस पर आरोप लगाया था. बहरहाल, टीआरएस ने पलटवार करते हुए कहा कि कांग्रेस ने खुद अपनी पार्टी में दूसरे दलों के जन प्रतिनिधियों को शामिल किया है.

लोकसभा चुनाव के मद्देनजर परेशानियों का सामना कर रही कांग्रेस ने शुक्रवार रात को राज्य में 17 लोकसभा सीटों में से 8 के लिए उम्मीदवारों की घोषणा कर दी. इस सूची में प्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष ए रेवंत रेड्डी (मल्काजगिरी) और पोन्नम प्रभाकर (करीमनगर) शामिल हैं.



loading...