ताज़ा खबर

योगी सरकार ने सरकारी राशन की दुकानों पर कंडोम और सैनेटरी पैड बेचने की दी अनुमति

उन्नाव केस: पीड़िता की मौत पर मुख्यमंत्री योगी ने जताया दुःख, बोले- मामले को फास्ट ट्रैक कोर्ट में ले जाएंगे

उन्नाव रेप पीड़िता के पिता ने कहा- हैदराबाद के दरिंदो को जैसी सजा मिली वैसी ही उनकी बेटी के दोषियों को भी मिले

यूपी में नहीं थम रहे दरिंदगी के मामले, बुलंदशहर में नाबालिग से 3 लोगों ने किया गैंगरेप, पीड़िता अस्पताल में भर्ती

आखिरकार जिंदगी की जंग हार गई उन्नाव रेप पीड़िता, शुक्रवार रात 11: 40 बजे ली आखिरी सांस

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इलाहाबाद हाईकोर्ट से बड़ी राहत, चुनाव को चुनौती देने वाली याचिका खारिज

हैदराबाद के बाद अब यूपी के उन्नाव में दुष्कर्म पीड़िता को आरोपियों ने जिंदा जलाया, हालत गंभीर

2019-11-12_RationShop.jpg

उत्तर प्रदेश में सरकारी राशन की दुकानों पर कंडोम और सैनेटरी पैड भी मिलेंगे. सरकार लोगों में जागरुकता फैलाने के लिए यह कदम उठा रही है. सरकारी राशन दुकानदार अब अपने कार्डधारकों की सहूलियत और जागरूकता के लिए गेंहू, चावल के साथ कंडोम और सैनेटरी पैड भी दुकान से वितरित करेंगे. खाद्य रसद विभाग ने इसकी अनुमति दे दी है. 

खाद्य आयुक्त मनीष चौहान ने कहा, "प्रदेश में करीब 80 हजार दुकानदार हैं. लोगों को जागरूक करने के लिए शासन ने इसकी मंजूरी दे दी है. जो वस्तुएं राशन की दुकान में बेची जानी हैं, उनमें प्रमुख रूप से सैनेटरी पैड, कंडोम, साबुन, ओआरएस घोल, शैंपू, साबुन, पेन, कापी आदि शामिल हैं."

उन्होंने बताया, "राशन उपभोक्ता महीने भर के सामान के साथ इसे भी खरीद सकते हैं. प्रदेश के कोटेदार लाभांश कम होने का हवाला देकर इसकी लंबे समय से मांग कर रहे थे. इसी को देखेते हुए यह अनुमति दी गई है."

सार्वजनिक वितरण प्राणाली में एपीएल आदि योजनाओं के बंद होने के बाद अन्त्योदय और खाद्य सुरक्षा का काम बचा है. ऐसे में दुकानदारों का लभांश भी कम हो गया है, जिसके बाद अब सरकार ने इस काम की मंजूरी दी है. दुकानदारों का कहना है कि गेंहू, चावल के कमीशन से उनका खर्च नहीं निकलता है और घर चलाने में दिक्कत होती है.

खाद्य आयुक्त ने सभी मंडलायुक्तों और जिलाधिकारियों को भेजे गए आदेश में कहा है कि सरकारी राशन की दुकानों में उन्हीं कंपनियों की वस्तुएं बेची जानी चाहिए, जो एफएसएसएआई के मानकों का पालन करती हों.


 



loading...