अशोक गहलोत ने कहा- पहलू खान मामले में जरूरत पड़ी तो दोबारा होगी जांच, ओवैसी की मुस्लिमों से ये खास अपील

राजस्थान के कोटा से बीजेपी सांसद ओम बिड़ला हो सकते हैं अगले लोकसभा अध्यक्ष

लोकसभा चुनाव में करारी हार के बाद कांग्रेस में घमासान जारी, अशोक गहलोत ने सचिन पायलट पर फोड़ा बेटे की हार का ठीकरा

राजस्थान बोर्ड 10वीं का रिजल्ट जारी, 79.85% छात्र हुए पास, सीएम अशोक गहलोत ने दी शुभकामनाएं

अलवर गैंगरेप पीड़िता से राहुल गांधी ने की मुलाकात, न्याय का दिया भरोसा

राजस्‍थान के करौली में पीएम मोदी ने कहा- पाकिस्तान की हेकड़ी निकल गई, अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित किए जाने से कांग्रेस परेशान

राजस्थान के बीकानेर में नाल एयरफोर्स स्टेशन के पास मोर्टार बम मिलने से हड़कंप, जांच में जुटी पुलिस

2019-06-29_Gehlot.jpg

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने पहलू खान की गोरक्षों द्वारा पिटाई मामले में पेश की गई चार्जशीट का ठीकरा प्रदेश की पूर्व सरकार (बीजेपी) पर फोड़ा है. साथ ही उन्होंने यह आश्वासन भी दिया है कि अगर मामले की जांच में गड़बड़ी पाई जाती है तो इसकी दोबारा जांच होगी. 

इस मामले पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि पहलू खान केस की जांच पूर्व की बीजेपी सरकार के शासन के दौरान की गई थी. इस मामले में चार्जशीट भी बीजेपी सरकार के दौरान पेश की गई थी. जिसके बाद उन्होंने कहा, अगर इस जांच में किसी भी तरह की खामी पाई जाती है, तो मामले की फिर से जांच होगी.

यहां आपको बता दें, राजस्थान पुलिस ने कथित गोरक्षकों द्वारा 2017 में मारे गए पहलू खान के खिलाफ चार्जशीट दायर की है और इसमें उसपर गोतस्करी का आरोप लगाया है. पुलिस ने पहलू खान को राजस्थान बोवाइन एनिमल एक्ट 1995 की धारा 5,8 और 9 के तहत आरोपी बताया है.

आपको बता दें कि अप्रैल 2017 में राजस्थान के अलवर में कथित गोरक्षों द्वारा पहलू खान की पीट पीट कर हत्या कर दी थी. उस वक्त भारतीय जनता पार्टी प्रदेश की सत्ता पर काबिज थी.

वहीं इस मामले में हैदराबाद के सांसद और एआईएमआईएम चीफ असद्दुदीन ओवैसी ने कहा, सत्ता में आते ही कांग्रेस बीजेपी के जैसी बन जाती है, राजस्थान के मुसलमानों को यह बात समझ लेनी चाहिए और कांग्रेस का विरोध करना चाहिए और अपनी पार्टी बनानी चाहिए. 70 साल बहुत होते हैं लेकिन अब बदल जाइए.



loading...