ताज़ा खबर

GST रेट पर बोले चिदंबरम- शुक्रिया गुजरात, जो संसद नहीं कर सकी वो चुनाव ने कराया

CBI vs CBI: सुप्रीमकोर्ट की सख्ती पर आलोक वर्मा ने सीलबंद लिफाफे में दाखिल किया जवाब, कल होगी सुनवाई

गुजरात दंगा: पीएम मोदी के खिलाफ जकिया जाफरी की याचिका पर अब 26 नवंबर को सुनवाई करेगा सुप्रीमकोर्ट

CBI विवाद: आलोक वर्मा से सुप्रीमकोर्ट ने जल्द से जल्द जवाब दाखिल करने को बोला, मंगलवार को निर्धारित सुनवाई नहीं टलेगी

सरकार बनाम RBI: मुंबई में आरबीआई बोर्ड की मीटिंग जारी, राहुल गांधी बोले- उम्मीद है मोदी को उनकी जगह दिखायेंगे उर्जित

अमृतसर ब्लास्ट: सेना प्रमुख पर दिए बयान को लेकर 'AAP' नेता फुल्का का यूटर्न, कहा- इसके लिए मुझे खेद है

1971 में पाकिस्तानी सैनिकों को खदेड़ने वाले महावीर चक्र विजेता ब्रिगेडियर कुलदीप सिंह चांदपुरी नहीं रहे

2017-11-11_gujrat4.jpg

GST घटाने पर पी. चिदंबरम ने मोदी सरकार पर तंज कसा. चिदंबरम ने ट्वीट करके कहा कि शुक्रिया गुजरात. जो काम संसद और कॉमन सेंस से नहीं हो सका वो वहां होने वाले चुनावों ने करा लिया. बता दें कि मोदी सरकार ने शुक्रवार को 178 आइटम्स पर टैक्स घटाकर उन्हें 18 % स्लैब में ला दिया है. यह फैसला GST काउंसिल की यह 23वीं मीटिंग में लिया गया. बता दें कि कांग्रेस लंबे वक्त से GST रेट्स को लेकर अपनी विरोध करती आ रही है.

चिदंबरम ने लिखा कि कांग्रेस निर्दोष है. मेरा कोई दोष नहीं. आखिरकार 18% GST रेट को मान लिया गया है. अगर सरकार कई चीजों पर 28% से घटाकर 18% टैक्स कर रही है तो साफ है कि उसने देर से ही सही लेकिन सबक तो ले लिया.

उन्होंने कहा कि सरकार GST बिल पर राज्यसभा में डिबेट और वोटिंग पर बचती रही. लेकिन अब वे पब्लिक डोमेन में बहस से नहीं बच सकते. कांग्रेस शासित राज्यों के फाइनेंस मिनिस्टर्स ने GST काउंसिल की मीटिंग में टैक्स स्लैब में बदलाव की बात रखी. आगरा, सूरत, तिरुपुर और दूसरे बिजनेस हब इस बात को देख रहे हैं. कांग्रेस पार्टी का अगला मकसद एक टैक्स रेट करना रहेगा.

बता दें कि  28% टैक्स कैटेगिरी में से 178 आइटम्स को 18% टैक्स स्लैब में लाया गया. 13 आइटम्स को 18% से 12% के टैक्स स्लैब में लाया गया. 6 आइटम्स को 18% से 5% के टैक्स स्लैब में लाया गया, 8 आइटम्स को 12% से 5% के टैक्स स्लैब लाया गया. इसके अलावा 6 आइटम्स को 5% से 0 की कैटेगरी में लाया गया है.



loading...