छत्तीसगढ़: भूपेश बघेल सरकार के मंत्रिमंडल का हुआ विस्तार, राज्यपाल ने मंत्रियों को दिलाई शपथ

छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव में सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ में 7 नक्सलियों को मार गिराया, बड़ी मात्रा में हथियार भी बरामद

छत्तीसगढ़ के सुकमा में मुठभेड़, सुरक्षाबलों ने 1 नक्सली को मार गिराया, इंसास राइफल बरामद

छत्तीसगढ़ के धमतरी में सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ में 4 नक्सलियों को मार गिराया, बड़ी मात्रा में हथियार बरामद

छत्तीसगढ़ के बीजापुर में नक्सलियों के साथ मुठभेड़ में CRPF के 3 जवान शहीद, एक महिला की मौत

छत्तीसगढ़ के बीजापुर में नक्सलियों ने समाजवादी नेता को अगवा कर मौत के घाट उतारा, सड़क किनारे मिली लाश

छत्तीसगढ़: कांकेर में सेना ने मुठभेड़ में 2 नक्सलियों को किया ढेर, भारी मात्रा में गोल-बारूद बरामद

2018-12-25_ChhattisgarhCabinet.jpg

छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल ने मंगलवार को अपनी कैबिनेट का विस्तार किया. इस दौरान 9 विधायकों ने मंत्री पद की शपथ ली. इसमें 6 नए चेहेर को मौका दिया गया है. गवर्नर आनंदीबेन पटेल ने सभी को शपथ दिलाई. आपको बता दें कि बघेल के 17 दिसम्बर को मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के साथ टी एस सिंहदेव और ताम्रध्वज साहू ने भी मंत्री पद की शपथ ली थी.

बघेल ने मंत्रिमंडल में जातिगत समीकरण को काफी तवज्जो दिया है. इस बार दो सतनामी तो तीन आदिवासी समाज के विधायकों को मंत्रिमंडल में शामिल किया गया है. साथ ही एक महिला विधायक और एक मुस्लिम विधायक को भी मंत्री बनाया गया है. पहली बार विधायक बने नेताओं को मंत्री नहीं बनाया गया है.

ये 9 विधायक बने मंत्री

रविंद्र चौबे, प्रेमसहाय सिंह टेकाम, मो. अकबर, कवासी लखमा, शिव डहरिया, अनिल भेड़िया, जयसिंह अग्रवाल, गुरु रुद्र कुमार और उमेश पटेल.

आपको बता दें कि छत्तीसगढ़ में विधानसभा की 90 सीटें हैं. कैबिनेट में सीएम सहित अधिक से अधिक 13 मंत्री हो सकते हैं. ऐसे में कैबिनेट को अंतिम रूप देने में 11 लोकसभा क्षेत्रों के अलावा साल 2019 में होने वाले लोकसभा के चुनावों को भी ध्यान में रखा गया है. शपथ ग्रहण के बाद मंत्रियों के विभाग तय किए जाएंगे.



loading...