छत्तीसगढ़: भिलाई स्टील प्लांट में हुए धमाके में मरने वालों की संख्या 13 हुईं, सात की हालत नाजुक

2018-10-09_BhilaiSteelBlast.jpg

एशिया के सबसे बड़े स्टील प्लांट भिलाई इस्पात संयंत्र में हुए ब्लास्ट में मृतकों की संख्या में लगातार इजाफा होता जा रहा है. हादसे में मरने वालों की संख्या 8 से बढ़कर 13 हो गई है. जबकि कई लोगों की हालत अब भी गंभीर बनी हुई है. आपको बता दें भिलाई स्टील प्लांट के अंदर कोक ओवन गैस सप्लाई लाइन में किसी कारणवश ब्लास्ट हो गया था. जिसके चलते संयंत्र में मौजूद करीब 20 से भी अधिक लोग इसकी चपेट में आ गए थे. कोक ओवन में गैस सप्लाई लाइन में ब्लास्ट होने से संयंत्र में लगी आग ने करीब 20 लोगों को अपनी चपेट में ले लिया था. जिनमें से अब तक 13 लोगों के मरने की खबर है. वहीं हादसे में कुछ लोगों की हालत अभी भी गंभीर बनी हुई है. आग की चपेट में आए सभी लोगों को सेल के जवाहर लाल नेहरू अस्पताल में शिफ्ट कराया गया था, जहां घायलों में से 13 ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया.

हादसे की खबर मिलते ही आला अधिकारी व पुलिस अधिकारियों ने मौके पर पहुंचकर राहत बचाव कार्य शुरू कर दिया. जिसके बाद अधिकारियों और पुलिस ने सभी को अस्पताल में भर्ती कराया, लेकिन आग में बुरी तरह झुलस जाने की वजह से इलाज के दौरान 13 लोगों की मौत हो गई. आपको बता दें यह पहली बार नहीं है जब भिलाई स्टील प्लांट में इस तरह की घटना हुई है. इससे पहले भी भिलाई स्टील प्लांट हादसे का शिकार हो चुका है. वहीं अधिकारियों के मुताबिक अभी घायलों की स्थिति के बारे में कुछ कहा नहीं जा सकता, क्योंकि विस्फोट काफी भयानक था. 

हादसे की पुष्टी करते हुए स्टील अथॉरिटी ऑफ इण्डिया लिमिटेड (सेल) ने कहा कि  गैस पाइप लाइन में आग लगने से हुई दुर्घटना बेहद दुखद है. पूरा सेल परिवार इस घटना में प्रभावित परिवार के सदस्यों के साथ खड़ा है और उनको हर तरह की सहायता उपलब्ध कराने की कोशिश कर रहा है और घायल लोगों के इलाज के लिए हर तरह की राहत और देखभाल से जुड़े संसाधन मुहैया कराये जा रहे हैं.

आपको बता दें यह घटना करीब साढ़े 11 के आस-पास की बताई जा रही है. घायलों की संख्या भी स्पष्ट नहीं की गई है. भिलाई इंस्पात के पब्लिक रिलेशन विभाग के मुताबिक राहत-बचाव कार्य अभी भी जारी है और संयंत्र के अंदर उपस्थित सभी कर्मचारियों से बात भी की जा रही है. वहीं घायलों में से तीन की हालत बेहद गंभीर बताई जा रही है. 



loading...