12 डबल सेंचुरी लगाने वाले पहले भारतीय क्रिकेटर बने चेतेश्वर पुजारा

फीफा वर्ल्ड कप: छठे मैच में भी गोल नहीं कर सके मेसी, अर्जेंटीना की यह सबसे बड़ी हार

इंग्लैंड की महिला टीम ने बनाया T-20 में सर्वोच्च स्कोर का वर्ल्ड रिकार्ड, साउथ अफ्रीका के खिलाफ बनाए 250 रन

इग्लैंड ने वनडे में बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड, 21 छक्कों की मदद से ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बनाए 481 रन

श्रीलंकाई कप्तान दिनेश चांडीमल पर लगा गेंद से छेड़छाड़ करने का आरोप, ICC ने लगाया एक मैच का प्रतिबंध

श्रीलंकाई कप्तान दिनेश चांडीमल पर लगा गेंद से छेड़छाड़ करने का आरोप, ICC ने पाया दोषी

FIFA विश्व कप 2018: आज होगा पनामा का डेब्यू, बेल्जियम के खिलाफ खेलेगा मैच, किसी यूरोपीय देश से कभी नहीं जीत पाई ट्यूनीशिया

2017-11-03_pujara54.jpg

गुरुवार को रणजी ट्रॉफी में भारतीय टेस्ट टीम के प्रमुख खिलाडी चेतेश्वर पुजारा ने झारखंड के खिलाफ दोहरा शतक जड़ते हुए विजय मर्चेट जैसे दिग्गज बल्लेबाज को पीछे छोड़ दिया है. पुजारा का यह प्रथम श्रेणी क्रिकेट में 12वां दोहरा शतक है. इसी के साथ वह इस प्रारूप में सबसे अधिक दोहरे शतक लगाने वाले भारतीय बल्लेबाज बन गए हैं.

पुजारा से पहले किसी भी भारतीय बल्लेबाज ने प्रथम श्रेणी क्रिकेट में 12 दोहरे शतक नहीं लगाए थे. उनके पहले विजय मर्चेट ने 11 दोहरे शतक लगाए थे.

जानकारी के मुताबिक , पुजारा ने दूसरे दिन झारखंड के खिलाफ 204 रनों की पारी खेली. उनकी इस पारी की मदद से सौराष्ट्र ने अपनी पहली पारी 9 विकेट के नुकसान पर 553 रनों पर घोषित कर दी. दिन का खेल खत्म होने तक उसने झारखंड के 52 रनों पर ही 2 विकेट गिरा दिए हैं.

पुजारा ने अपनी पारी में 355 गेंदों का सामना किया और 28 चौके लगाए. उनके अलावा चिराग गानी ने 108 और प्रेरक मांकड़ ने 85 रनों की पारी खेली.

अपनी पहली पारी खेलने उतरी झारखंड ने नाजिम सिद्दीकी (5) और शशांक राठौर (12) के रूप में 2 विकेट खो दिए हैं. यह दोनों विकेट जयदेव उनादकट ने लिए.



loading...