ताज़ा खबर

31 दिसंबर से नहीं चलेगी इन बैंकों की चेकबुक, जल्दी बदलें चेकबुक

2017-12-27_SBI-cheque-book.jpg

1 जनवरी से मर्ज हुए स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) के खाताधारकों के लिए नए नियम लागू हो जाएंगे। एसबीआई में मर्ज हो चुके बैंकों की चेकबुक अवैध हो जाएगी। स्टेट बैंक ऑफ इंडिया में कुल 6 बैंक मर्ज हुए है यानि 31 दिसंबर के बाद इन बैंकों की चैक बुक अवैध हो जाएगी। अगर आपका भी अकाउंट स्टेट बैंक ऑफ इंडिया में मर्ज हुआ है तो आपके पास सिर्फ 4 दिन है आप नई चैक बुक अप्लाई कर सकते है।

इन बैंकों के ग्राहकों को लेनी है नई चेकबुक
-भारतीय महिला बैंक
-स्टेट बैंक ऑफ पटियाला
-स्टेट बैंक ऑफ मैसूर
-स्टेट बैंक ऑफ बीकानेर और जयपुर
-स्टेट बैंक ऑफ रायपुर
-स्टेट बैंक ऑफ त्रावणकोर
-स्टेट बैंक ऑफ हैदराबाद

एसबीआई के एसोसिएट बैंकों के कस्टमर को पहले 1 अक्टूबर तक अपनी पुरानी चेकबुक को बंद करके नई चेक बुक लेने के लिए कहा गया था। एसबीआई ने पहले कहा था कि पुरानी चेकबुक केवल 30 सितंबर तक इस्तेमाल होगी, इसके बाद ये पूरी तरह से अमान्य हो जाएगी। इसका मतलब ये था कि ग्राहकों को बैंक की ब्रांच में नई चेकबुक के लिए अप्लाई करना होगा। लेकिन बैंक ने इसके लिए 31 दिसंबर तक सहूलियत दे दी है। 

एसबीआई के सहयोगी बैंकों के इन नए कस्‍टमर्स को अब नया आईएफएससी कोड भी लेना होगा. उन्‍हें एसबीआई की नजदीकी ब्रांच के मुताबिक आईएफएस कोड बदलवाना होगा. 31 दिसंबर के बाद ये कोड भी काम नहीं करेंगे. इससे मनी का ऑनलाइन ट्रांसफर नहीं हो पाएगा.

SBI ने ग्राहकों से आवेदन किया है कि नई चेक बुक के लिए इंटरनेट बैंकिंग, मोबाइल बैंकिंग, ATM या फिर शाखा में जाकर तुरंत आवेदन करें.

इन बैंकों के विलय के बाद एसबीआई का कुल कस्‍टमर बेस 37 करोड़ हो गया है. इसकी शाखाओं की संख्‍या भी बढ़कर लगभग 24,000 और एटीएम की संख्‍या 59,000 हो गई है. विलय के बाद एसबीआई का डिपोजिट बेस भी बढ़कर 26 लाख करोड़ रुपए हो गया है.



loading...