Chandrayaan 2: तकनीकी खराबी के कारण इसरो ने टाली ‘चंद्रयान-2’ की लॉन्चिंग, नई तारीख की जल्द होगी घोषणा

2019-07-15_Chandrayaan2.jpg

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) की ओर से ‘चंद्रयान-2’ की लॉन्चिंग को आखिरी घंटे में रोक दिया गया. ऐसा चंद्रयान-2 के लॉन्‍च व्‍हीकल सिस्‍टम में तकनीकी खामी आने के बाद किया गया है. इसरो की ओर से भारत के बहुप्रतीक्षित ‘चंद्रयान-2’ की लॉन्चिंग सुबह-सुबह 2:51 बजे श्रीहरिकोटा से होनी थी. इसरो की ओर से आधिकारिक बयान जारी करके इसकी लॉन्चिंग टलने की जानकारी दी गई है. 

इसरो की ओर से कहा गया है कि प्रक्षेपण से 1 घंटे पहले लॉन्‍च व्‍हीकल सिस्‍टम में तकनीकी खामी सामने आई. इसलिए ‘चंद्रयान-2’ की लॉन्चिंग को टाल दिया गया है. जल्‍द ही इसके प्रक्षेपण की अगली तारीख का एलान किया जाएगा. भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने मिशन चंद्रयान-2 की उल्टी गिनती रविवार सुबह 6:51 बजे शुरू की थी. इसरो की ओर से चंद्रयान-2 के प्रक्षेपण से करीब 56 मिनट 24 सेकंड पहले ही इसकी लाइव स्‍क्रीनिंग रोक दी गई थी. इसके बाद इसकी लॉन्चिंग भी टाल दी गई. 

चंद्रयान-2 को 44 मीटर लंबे और 640 टन वजनी जियोसिंक्रोनस सैटेलाइट लांच व्हीकल-मार्क 3 (जीएसएलवी-एमके 3) से लॉन्‍च किया जाना था. ‘चंद्रयान-2’ का प्रक्षेपण देखने के लिए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद भी मौजूद थे. कोविंद रविवार शाम ही श्रीहरिकोटा पहुंच चुके थे. 5000 लोगों की दीर्घा में वैज्ञानिक, राजनीतिज्ञ, खगोल विशेषज्ञ, शोधकर्ता और विद्यार्थी भी थे.



loading...