पेपर लीक मामला: प्रकाश जावड़ेकर बोले- मैं भी एक पिता हूं रातभर सो नहीं पाया, सिस्टम में करेंगे सुधार

2018-03-29_Prakash-Javdekar.jpg

सीबीएसई पेपर लीक मामले पर गुरुवार को केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने दुख जताया। उन्होंने कहा- "मैं पैरेंट्स और स्टूडेंट्स का दर्द समझ सकता हूं। मैं भी एक पैरेंट हूं। बता दें कि 13 दिन से पेपर लीक की खबरें नकार रहे सीबीएसई ने बुधवार को आखिर मान लिया था कि पेपर लीक हुए हैं। इसके बाद 10वीं का गणित और 12वीं के इकोनॉमिक्स की परीक्षा रद्द कर दी गई। बताया गया कि नई तारीखें हफ्तेभर में सीबीएसई की वेबसाइट पर डाल दी जाएंगी। इस मामले में मोदी ने नाराजगी जताई और जावड़ेकर को सख्त एक्शन लेने के लिए कहा है।

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा- इस घटना के बाद मैं सो नहीं सका। जो भी दोषी है उन्हें बख्शा नहीं जाएगा। पुलिस आरोपियों को जल्द ही गिरफ्तार कर लेगी। पुलिस ने एसएससी पेपर लीक मामले में पुलिस ने तेजी से कार्रवाई की है उसी तरह से इस मामले में दोषियों को पकड़ा जाएगा। यह तय है कि पेपर लीक करने के पीछे कोई गैंग पूरी योजनाबद्ध तरीके से काम कर रहा था। यह गैंग जल्द पकड़ा जाएगा।' मुझे पता है कि पेपर लीक होना दुखद है। स्टूडेंट को परेशानी होगी। मैं स्टूडेंट्स और पेरेंट्स को भरोसा दिलाता हूं कि भविष्य में पेपर लीक का एक भी मामला सामने नहीं अाएगा। सोमवार से पेपर बांटे जाने के दौरान कड़ी सुरक्षा का इंतजाम किया जाएगा।

पेपर लीक मामले में नरेंद्र मोदी ने प्रकाश जावड़ेकर से बात कर नाराजगी जताई थी। उन्होंने इस मामले में सख्त एक्शन लेने के लिए भी कहा।

13 दिन पहले अकाउंट का पेपर वॉट्सऐप पर आया था। 26 को इकोनॉमिक्स और मंगलवार को मैथ्स के पेपर आए। हूबहू असली पर्चे जैसे ही थे। पेपर लीक करने का तरीका एक जैसा। प्रश्नपत्र के सारे सवाल हाथ से लिखे होते थे और वॉट्सऐप पर सर्कुलेट किया गया है। 10वीं के 16.38 लाख और 12वीं के 8 लाख स्टूडेंट्स को फिर से परीक्षा देनी होगी।

सीबीएसई के पूर्व चेयरमैन अशोक गांगुली ने बुधवार को बताया कि गणित और इकोनॉमिक्स का पेपर देशभर में सभी छात्रों को दोबारा देना होगा। दरअसल सीबीएसई ने इसी साल देशभर में एक ही प्रश्न पत्र पर पेपर कराने शुरू किए हैं। पहले रीजन के हिसाब से प्रश्न पत्रों के सेट अलग-अलग होते थे। वही सिस्टम होता तो एक रीजन में पेपर लीक होने का असर देशभर के छात्रों पर नहीं पड़ता।

केंद्रीय शिक्षा मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने बुधवार को कहा था- "बाकी परीक्षाओं के लिए सोमवार से लीक-प्रूफ सिस्टम लाएंगे। टेक्नोलॉजी के जरिए सुरक्षा के नए और पुख्ता प्रबंध करेंगे। यह घटनाक्रम निराशाजनक है। पर किसी के साथ अन्याय नहीं होने देंगे। लीक का सोर्स ढूंढने के लिए सीबीएसई जांच कर रहा है।"



loading...