सीबीएसई ने दी स्कूलों के अन्दर किताबें और स्टेशनरी बेचने के आदेश, होगी ऑनलाइन बिक्री

2017-08-31_cbse-allow-stationery-shop.jpg

सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन ने स्‍कूलों को किताबें बेचने की इजाजत दे दी है. इसके लिए बोर्ड ने अपना पुराना आदेश वापस लिया जिसमें ऐसा करने की मनाही थी. अब नए आदेश के तहत सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन से जुड़े सभी स्‍कूल अब एनसीईआरटी की किताबें, स्‍टेशनरी और बाकी के स्‍टडी मेटेरियल स्कूल के कैंपस में ही बेच सकेंगे. इसके लिए सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन ने एक सर्कुलर जारी किया है.

सर्कुलर में कहा गया है, ‘स्‍कूलों के भीतर एक दुकान खोली जा सकती है. इसमें एनसीईआरटी किताबों को ऑनलाइन मंगाने की सुविधा भी होगी.’ सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन के उप सचिव के श्रीनिवासन ने सर्कुलर जारी करते हुए स्कूलों को एनसीईआरटी पुस्तकों की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए अपनी जरूरत के अनुसार मांग पत्र पेश करने को कहा है. स्कूलों को सलाह दी गई है कि 2018-19 सेशन के लिए स्कूल एनसीईआरटी पुस्तक संबंधी लिंक पर रजिस्ट्रेशन कराएं.

इससे पहले सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन ने जो सर्कुलर जारी किया था, उसमें कहा गया था कि सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन से जुड़े स्‍कूल किसी भी तरह की व्यवसायिक गतिविधि अपने स्कूल के कैंपस में नहीं कर सकते.

इस कदम के बाद कई स्‍कूलों ने इस आदेश पर आपत्ति जताई थी और कहा था कि स्‍कूल के भीतर दुकान होने से बच्‍चों को टेक्‍स्‍टबुक्‍स और स्‍टेशनरी तुरंत मिल जाती है.



loading...