इस देश में शादी के बाद 3 दिनों तक दुल्हा-दुल्हन के टॉयलेट जाने पर है रोक, वजह जानकर चौक जायेंगे आप

2018-09-05_ajibogarib.jpg

हर देश, हर धर्म के लोगों में शादी करने के रिवाज अलग अलग तरह के होते हैं. कहीं बेहद शांत और सौम्य तरीके से शादी की रस्में निभाई जाती हैं तो कुछ जगहों पर शादी के नाम पानी को पैसे की तरह बहा दिया जाता है. कहीं घोड़ा तलवार लटका कर घोड़ा चढ़कर आता है तो कहीं दूल्हे को सिर्फ धोती और बनियान में मंडप में बिठा दिया जाता है. ऐसे ही एक देश में एक अजीबो-गरीब रस्म है. यहां शादी के बाद दुल्हा दुल्हन को टॉलेट ही नहीं जाने दिया जाता है.

ये अजब गजब रस्म निभाई जाती है इंडोनेशिया में. यहां टीडॉन्ग समुदाय के लोग इस नियम को बहुत महत्वपूर्ण मानते हैं और पूरी इमानदारी से इसे निभाते हैं. नियम के मुताबिक शादी के 3 दिन बाद तक दूल्हा और दुल्हन टॉयलेट नहीं जा सकते हैं. अगर आप टॉयलेट चले जाते हैं तो इसे अपशकुन माना जाता है. 

दरअसल ऐसा माना जाता है कि शादी एक पवित्र समारोह है और टॉयलेट जाने से इसकी पवित्रता भंग हो जाती है. ऐसा करने वर और वधू अपवित्र हो जाते हैं. एक और कारण हैं जिसे जानने के बाद आप समझेंगे कि अंधविश्वास सिर्फ भारत में नहीं फैला है बल्कि अन्य देशों को भी अपने चपेट में लिया हुआ है.

ऐसा भी माना जाता है कि बाथरुम में लोग अपनी शरीर की गंदगी का त्याग करते हैं. जिसकी वजह से नकारात्मक शक्तियों का वहां वास हो जाता है. यदि शादी के बाद दूल्हा और दुल्हन ऐसे शौचालय का इस्तेमाल करते हैं तो उनका वैवाहिक जीवन खतरे में पड़ सकता है. वहां मौजूद बीमारियां उनके रिश्तों में खटास पैदा कर सकती हैं.

तीन दिनों तक वर-वधू को टॉयलेट नहीं जाना होता है तो इसकी तैयारियां काफी पहले से की जाती हैं. शादी के बाद वर-वधू के खान-पान का खास ख्याल रखा जाता है. उन्हें कोई तकलीफ न हो इसके लिए दोनों परिवारों को लोग साथ ही रहते हैं.



loading...