सुशांत सिंह राजपूत और सारा अली खान की फिल्म ‘केदारनाथ’ को बॉम्बे हाईकोर्ट से बड़ी राहत, याचिका रदद्, उत्तराखंड सरकार ने जांच के लिए बनाया पैनल

अमिताभ बच्चन और तापसी पन्नू की आने वाली फिल्म “बदला” का पहला गाना ‘क्यों रब्बा’ हुआ रिलीज

पुलवामा हमले के बाद बॉलीवुड का बायकॉट, ‘टोटल धमाल’ के बाद अब ये फ़िल्में पाकिस्तान में नहीं होंगी रिलीज

Pulwama Attack: सलमान खान ने अपनी फिल्म ‘नोटबुक’ से पाकिस्तानी सिंगर आतिफ असलम को निकाला

पुलवामा हमले के बाद ऑल इंडिया सिने वर्कर्स एसोसिएशन का ऐलान, भारत में पाकिस्तानी कलाकारों पर बैन

पुलवामा हमला: बॉलीवुड अभिनेता अजय देवगन का ऐलान, पाकिस्तान में रिलीज नहीं होगी ‘टोटल धमाल’

शादी के 2 महीने बाद ही प्रियंका चोपड़ा हुई प्रेग्नेंट, सोशल मीडिया पर वायरल हो रही बेबी बंप वाली फोटो

2018-12-06_Kedarnath.jpg

सारा अली खान और सुशांत सिंह राजपूत स्टारर फिल्म ‘केदारनाथ’ के निर्देशक को बॉम्बे हाईकोर्ट ने राहत दी है. हाईकोर्ट ने मूवी के खिलाफ दायर याचिका पर सुनवाई की और याचिका खारिज कर दी.

आपको बता दें कि याचिकाकर्ताओं ने मांग की थी कि CBFC फिर से फिल्म के सेंसर प्रमाणन की समीक्षा करे. उन्होंने आरोप लगाया था कि धार्मिक स्थल पर प्रेम कहानी का मूल्यांकन लोगों की धार्मिक भावना को आहत कर सकता है. उधर उत्तराखंड सरकार ने ‘केदारनाथ’ को लेकर उठ रही आपत्तियों की जांच के लिए पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज की अध्यक्षता में एक पैनल का गठन किया है.

बुधवार को गठित की गई सतपाल महाराज की अध्यक्षता वाली इस समिति में सदस्य के रूप में गृह सचिव नितेश झा, सूचना सचिव दिलीप जवालकर और डीजीपी अनिल रतूड़ी शामिल हैं. विज्ञप्ति में कहा गया कि यह पैनल फिल्म के बारे में उठ रही आपत्तियों की जांच करेगा और सरकार को रिपोर्ट सौंपेगा. रिपोर्ट के आधार पर पूरे राज्य में फिल्म के प्रदर्शन के बारे में उचित फैसला लिया जाएगा. उत्तराखंड के एक वरिष्ठ भाजपा नेता ने पहली बार इस फिल्म पर आपत्ति जतायी थी. उन्होंने एक मुस्लिम पोर्टर और एक हिंदू तीर्थयात्री के बीच रोमांटिक प्रेम कहानी को दर्शाने वाली इस फिल्म पर “लव जिहाद” को बढ़ावा देने का आरोप लगाया है.



loading...