ताज़ा खबर

बीजेपी के राष्‍ट्रीय महाधिवेशन में बोले पीएम मोदी, 'सारे विरोधी मजबूर सरकार बनाने में जुटे हैं, लेकिन देश मजबूत सरकार चाहता है

2019-01-12_PmModi.jpg

दिल्‍ली के रामलीला मैदान में शुक्रवार को शुरू हुए बीजेपी के राष्‍ट्रीय अधिवेशन का आज (शनिवार) अंतिम दिन है. पीएम नरेंद्र मोदी ने इस दौरान कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा 'कभी दो कमरों से चलने वाली पार्टी, दो सांसदों वाली पार्टी आज इस विशाल स्वरूप में अपना राष्ट्रीय अधिवेश कर रही है जो अपने आप में अद्भुत और अविस्मरणीय है.' पीएम मोदी ने कहा 'सारे विरोधी मजबूर सरकार बनाने में जुटे हैं. लेकिन देश मजबूत सरकार चाहता है.' उन्‍होंने अटल जी को याद करते हुए कहा कि आज हमारे समर्पण को देखकर अटल जी को संतोष हो रहा होगा. अटल जी दोबारा पीएम बने होते तो देश आज कहीं और होता.'

पीएम मोदी ने अगस्‍ता वेस्‍टलैंड घोटाले {मामले|केस में दुबई से प्रत्‍यर्पित करके भारत लाए गए क्रिश्चियन मिशेल का जिक्र करते हुए कहा कि विदेशी बिचौलिये को पकड़कर भारत लाया गया है. पहले की सरकार में बिचौलियों को हवाई जहाजों से देश के बाहर ले जाया जाता था. उन्‍होंने कहा कि ये चौकीदार रुकने वाला नहीं है, चौकीदार एक को भी छोड़ने वाला नहीं है.

पीएम मोदी ने कहा '2014 से पहले देश उस स्थिति में था जब बैंकों में अपना पैसे जमा करने वालों की कोई कद्र नहीं थी. जिनके पास जनता के पैसे की रक्षा की जिम्मेदारी थी, वो ही जनता का पैसा लुटा रहे थे, कांग्रेस की सरकार में जनता का पैसा घोटालेबाजों को लोन के रूप में दिया जा रहा था.

पीएम मोदी ने कहा 'देश के बैंक कांग्रेस की तिजोरी थे. कांग्रेस के समय लोन लेने के दो तरीके थे. एक था कॉमन प्रोसेस और दूसरा कांग्रेस प्रोसेस. कॉमन प्रोसेस में आप बैंक से लोन मांगते थे और कांग्रेस प्रोसेस में बैंकों को कांग्रेस के घोटालेबाज मित्रों को लोन देने के लिए मजबूर किया जाता था.' उन्‍होंने कहा 'आजादी से लेकर 2008 तक 60 सालों में बैंकों ने मात्र 18 लाख करोड़ रुपये का लोन दिया था. लेकिन 2008 से 2014 तक ये आंकड़ा बढ़कर 52 लाख करोड़ हो गया यानी कांग्रेस के आखरी 6 साल में 34 लाख करोड़ के लोन दिए गए.'

पीएम मोदी ने कहा 'देश के इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ है जब सरकार पर भ्रष्टाचार का एक भी आरोप नहीं लगा है. हम इस बात पर गर्व कर सकते हैं. हमसे पहले की सरकार का जो कार्यकाल था, उसने देश को बहुत अंधेरे में धकेल दिया था. अगर मैं कहूं कि भारत ने 2004 से 2014 के महत्वपूर्ण 10 साल, घोटालों और भ्रष्टाचार के आरोपों में गंवा दिए, तो गलत नहीं होगा. 21वीं सदी की शुरुआत में ये 10 वर्ष बहुत महत्वपूर्ण थे.

पीएम ने कहा 'पहले से जिनको आरक्षण की सुविधा मिल रही थी उनके हक को छेड़े बिना, छीने बिना बीजेपी सरकार द्वारा सामान्य वर्ग को 10% आरक्षण का प्रावधान किया गया है.' उन्‍होंने कहा कि आज के युवा को पता है कि उसकी आवाज की सुनी जा रही है. वह जानता है कि उसके देश की शान मजबूत हो रही है. वह जानता है कि देश की आर्थिक और सामरिक हैसियत मजबूत हो रही है.



loading...