ताज़ा खबर

मध्यप्रदेश: BJP विधायक की दबंगई, थाने में घुसकर कांस्टेबल को जड़ा थप्पड़, घटना CCTV में कैद

मध्यप्रदेश में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने कहा- कांग्रेस को मूल समेत उखाड़ फेंकना है

मध्यप्रदेश में बोले राहुल गांधी, चौकीदार ने चोरी करवा दी, पीएम मोदी ने यह नहीं बताया बेटी किससे बचानी हैं

भोपाल: भाजपा महाकुम्भ में बोले पीएम मोदी, बोझ बन गई है कांग्रेस, देश के बाहर कर रही है गठबंधन

प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत बन रहे घरों से PM मोदी और शिवराज की फोटो हटाने के आदेश

मध्यप्रदेश: विधानसभा चुनाव से पहले इन प्रस्तावों पर लगी मुहर, 7 नई तहसीलों का होगा गठन

मध्यप्रदेश में राहुल गांधी ने किया वादा, कांग्रेस सत्ता में आई तो चीनियों के हाथ में होगा ‘मेड इन भोपाल’ का मोबाइल

2018-06-09_champalal.jpg

मध्यप्रदेश के देवास जिले में बागली के बीजेपी विधायक चंपालाल देवड़ा के खिलाफ जिले के उदयनगर पुलिस थाने में केस दर्ज हुआ. विधायक पर पुलिसकर्मी संतोष इवनाती के साथ बीती रात थाने में घुसकर मारपीट करने का आरोप है. इस घटना का एक वीडियो भी तेजी से वायरल हो रहा है. पुलिसकर्मी की शिकायत पर विधायक और अन्य के खिलाफ शासकीय कार्य में बाधा, मारपीट सहित अन्य धाराओं में केस दर्ज किया गया है.

सीसीटीवी में कैद हुए इस घटना के वीडियो में देर रात पुलिस कर्मी को एक के बाद एक कर तीन चांटे मारने की पूरी घटना थाने केकैमरे में कैद हो गई. विधायक के साथ थाने में उसका भतीजा, बेटी और समर्थक भी आए थे. पुलिस कर्मी ने लिखित FIR में आरोप लगाते हुए बताया है कि MLA और उनके साथी बोले कि यह उदयनगर है, यहां हमारा राज चलता है, अपनी औकात में रहना वरना तुझको खत्म कर देंगे.

दरअसल यह पूरा मामला विधायक के भतीजे से शुरू हुआ है. बीती रात पहले विधायक के भतीजे ने थाने में घुसकर ड्यूटी पर तैनात आरक्षक संतोष इवनाती से विधायक चाचा का रौब दिखाकर अभद्र व्यवहार कर धमकी दी और वहां से चला गया. लेकिन थोड़ी देर बाद ही थाने पहुंचे बागली के विधायक ने भी पुलिसकर्मी के साथ मारपीट, गाली गलौच के साथ ही धमकियां भी दीं.  

इस मामले में पुलिस ने आरोपी MLA के खिलाफ तमाम लिखित आरोपों पर केस दर्ज कर लिया है. लेकिन फिलहाल पुलिस विधायक जी की गिरफ्तारी के सवाल पर इंवेस्टिगेशन के बाद आगे की कार्रवाई करने की बात कह रही है. उधर मामले ने तूल पकड़कर राजनीतिक रंग भी ले लिया है. देवास पहुंचे कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव सज्जन सिंह वर्मा ने कहा कि यह विधायक की गुंडागर्दी है. पहले उनका भतीजा थाने में जाकर नाबालिग लड़की के रेप केस में बंद आरोपियों से बातचीत कर उन्हें छुड़ाने की कोशिश करता है. फिर अपने काका MLA को बुलाता.



loading...