कर्नाटक: कुमारस्वामी की सरकार पर मंडराया खतरा, फिर BJP सरकार की सुगबुगाहट

कर्नाटक उपचुनाव परिणाम: लोकसभा और विधानसभा की 5 सीटों में से कांग्रेस जेडीएस गठबंधन को 4 पर जीत, बीजेपी के खाते में 1 सीट

कर्नाटक उपचुनाव: लोकसभा और विधानसभा की 5 सीटों पर वोटों की गिनती जारी, बेल्लारी में जीत की और बढ़ी कांग्रेस

बेंगलुरु में बिना अनुमति के खुला बिटकॉइन एटीएम जब्त, संचालक भी गिरफ्तार

कर्नाटक: बैंक मैनेजर ने लोन के बदले रखी सेक्स की डिमांड, महिला ने की जमकर धुनाई

बेंगलुरु में दिल दहला देने वाली घटना, 20 छात्रों के सामने प्रिंसिपल की बेरहमी से हत्या

कर्नाटक के डिप्टी सीएम जी परमेश्वर ने अपने गनमैन से साफ कराए जूते, सोशल मीडिया पर लोगों ने कहा शर्म आनी चाहिए

2018-06-29_karnataka.jpg

कर्नाटक में जेडीएस और कांग्रेस में मतभेद के बीच बीजेपी में हलचल बढ़ गई है. बेंगलुरु में आज राज्य बीजेपी की अहम बैठक होगी. ये स्टेट एक्ज़ीक्यूटिव की विधानसभा चुनाव के बाद होने वाली पहली बैठक है. कहा जा रहा है कि इस बैठक में जेडीएस और कांग्रेस में मतभेद के बाद पैदा हुई स्थिति पर चर्चा होगी और पार्टी अपनी आगे की रणनीति तैयार करेगी. राज्य में पार्टी के अध्यक्ष बीएस येदियुरप्पा ने कहा कि बैठक में केंद्र सरकार की 4 साल की उपलब्धियों को जनता तक पहुंचाने की भी रणनीति बनाई जाएगी. साथ ही अगले साल होने वाले लोकसभा चुनावों पर भी मंथन होगा और रणनीति बनाई जाएगी. गौरतलब है कि पिछले दिनों हुए चुनावों में बीजेपी हालांकि सबसे बड़ी पार्टी के रुप में उभरी थी, लेकिन सरकार नहीं बना पाई और इस समय राज्य में कांग्रेस-जेडीएस की गठबंधन सरकार है.

आपको बता दें कि जेडीएस और कांग्रेस के बीच बजट और कई दूसरे मुद्दे पर मतभेद की खबरें आ रही हैं. कांग्रेस नेता सिद्धारमैया ने कहा था कि गठबंधन मं  आये तनाव के चलते उन्हें संदेह है कि यह सरकार शायद ही अपना कार्यकाल पूरा कर पाए. सिद्धरमैया ने कहा था कि यह (सरकार) तब तक रहेगी जब तक संसदीय चुनाव पूरे नहीं हो जाते. उसके बाद सभी घटनाक्रम होंगे. वहीं परमेश्वरा ने सिद्धरमैया के इस दावे पर कोपल में संवाददाताओं से कहा कि अध्यक्ष (कांग्रेस की राज्य की इकाई के) के तौर पर मैं यह स्पष्टीकरण दे रहा हूं कि हम पांच साल तक इस सरकार को चलाने के लिए सहमत हुए हैं. अन्य लोग बाहर जो बात कर रहे हैं, वह अप्रासंगिक हैं. उन्होंने कहा, कि बाहरी लोग अलग तरह से बात करते हैं.

पिछले महीने एचडी कुमारस्वामी के नेतृत्व में गठबंधन सरकार बनने के बाद दोनों दलों ने पांच सदस्यीय समन्वय एवं निगरानी समिति का गठन किया था. पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धरमैया इस समिति के चेयरमैन और दानिश अली संयोजक हैं. समिति में मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी, उपमुख्यमंत्री जी परमेश्वर और कांग्रेस के कर्नाटक प्रभारी केसी वेणुगोपाल भी शामिल हैं.



loading...