पाकिस्तान में भी उठने लगी आतंकवाद के खिलाफ आवाज, बेनजीर के बेटे ने इमरान सरकार पर लगाया गंभीर आरोप

जैश-ए-मोहम्मद सरगना मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित करने के लिए चीन को मनाने में लगे अमेरिका, ब्रिटेन और फ्रांस

पुलवामा हमले के आरोपी मसूद अजहर पर फ्रांस का बड़ा कदम, जब्त होंगी सभी संपत्तियां

न्‍यूजीलैंड के क्राइस्‍टचर्च में दो मस्जिदों में अंधाधुंध फायरिंग, कई की मौत, बाल-बाल बची बांग्लादेश क्रिकेट टीम

जैश सरगना मसूद अजहर को वैश्विक आतंकवादी घोषित करने में चीन ने फिर लगाया अडंगा, UNSC में बैन के प्रस्ताव पर लगाया वीटो

मसूद अजहर को वैश्विक आतंकवादी घोषित करने में चीन ने भारत से फिर मांगे सबूत

UNHRC में PoK के नेताओं-कार्यकर्ताओं ने खोली पाकिस्तान की पोल, कहा- हमले कराने के लिए कश्‍मीरियों को उकसाती है पाक सेना

2019-03-14_BilawalBhutto.jpg

पाकिस्तान में आतंकियों को लेकर पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) के चेयरमैन और बिलावल भुट्टो जरदारी ने कहा है कि पाकिस्तान में आतंकी संगठन खुलेआम काम कर रहे हैं. बिलावल पाकिस्तान की पूर्व प्रधानमंत्री दिवंगत बेनजीर भुट्टे और आसिफ अली जरदारी के बेटे हैं.

उन्होंने इमरान सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि दूसरे देशों पर हमला करने वाले आतंकी खुलेआम क्यों घूम रहे हैं? उन्होंने सिंध विधानसभा में बुधवार को पत्रकारों से ये बात कही. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान में काम कर रहे आतंकी संगठनों के खिलाफ कार्रवाई नहीं करने के कारण उनके माता-पिता को सजा भुगतनी पड़ी. ये आतंकी संगठन पाकिस्तान में बच्चों को मार रहे हैं और विदेशी धरती पर हमले कर रहे हैं. इसकी सजा आज पूरा पाकिस्तान भुगत रहा है. आपको बता दें भुट्टो के पिता आसिफ अली जरदारी पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति थे.

हाल ही में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा था कि विदेशों में हमले करने के लिए पाकिस्तान की धरती पर किसी भी आतंकी संगठन को काम नहीं करने दिया जाएगा. इसके बाद उनकी सरकार ने इस्लामिक आतंकवादी संगठनों के खिलाफ कार्रवाई की घोषणा की थी.

बिलावल भुट्टों ने ये दावा किया है कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की पार्टी तहरीक-ए-इंसाफ में ऐसे तीन मंत्री हैं जिनका संपर्क प्रतिबंधित संगठनों से है. भुट्टो ने कहा, '' ये कैसे हो सकता है कि तीन बार के चुने हुए प्रधानमंत्री (नवाज शरीफ) आज बीमार हैं लेकिन जेल में हैं. लेकिन आप प्रतिबंधित संगठनों को गिरफ्तार नहीं करवा सकते हो. सिंध असेंबली के स्पीकर को आय से ज्यादा संपत्ति के मामले में इस्लामाबाद से गिरफ्तार करवा सकते हो लेकिन प्रतिबंधित संगठनों को नहीं करवा सकते. उनकी संपत्तियां कहां से आती हैं ? उस पर भी तो जांच बैठाएं, इस सवाल का जवाब जरुर आना चाहिए.''


 



loading...