सूरत के नवागाम फ्लाईओवर सड़क हादसे में 3 की मौत, पुल से गिरती मां ने बच्चे को उछाला, दूसरी महिला ने थाम लिया

गुजरात के सरकारी कर्मचारियों पर पेंशनभोगियों के लिए खुशखबरी, सरकार ने 2 फीसदी बढ़ाया महंगाई भत्ता

कांग्रेस नेता अहमद पटेल के राज्यसभा चुनाव को लेकर दायर याचिका गुजरात हाईकोर्ट से गायब, 8 फरवरी से पहले सीलबंद लिफाफे में रिपोर्ट सौंपने का आदेश

सूरत में पीएम मोदी ने कहा- हमारी सरकार के बराबर काम करने के लिए पहली सरकार को 25 वर्ष लगते थे

आज से गुजरात दौरे पर पीएम मोदी, कई बड़ी योजनाओं का करेंगे शिलान्यास

Vibrant Gujarat Summit में मुकेश अंबानी ने प्रधानमंत्री मोदी से ‘डाटा के औपनिवेशीकरण' के खिलाफ कदम उठाने का किया आग्रह

वाइब्रेंट गुजरात शिखर सम्मेलन में पीएम मोदी ने कहा- कारोबार सुगमता रैंकिंग में भारत को टॉप 50 में पहुंचाने का लक्ष्य

2018-07-02_surataccident.jpg

सूरत शहर के नवागाम फ्लाईओवर पर रविवार रात एक तेज रफ्तार एसयूवी ने तीन मोटरसाइकलों को टक्कर मार दी. हादसे में तीन की मौत हो गई. इस दौरान पुल से गिरती एक मां ने अपने छह महीने के बच्चे को दूसरी महिला की तरफ उछाल दिया. इससे बच्चा अप्रत्याशित रूप से बच गया. 

रॉन्ग साइड से आ रही तेज रफ्तार एसयूवी पजेरो को देखकर एक बाइक सवार दंपती रोहित और लक्ष्मी ने गाड़ी रेलिंग की ओर मोड़ दी. इससे दोनों बच गए और संभलकर वहीं खड़े हो गए. उनके पीछे चल रहीं मोटरसाइकलें पजेरो की चपेट में आ गईं. इनमें से एक बाइक पर एक पति-पत्नी, उनका 6 महीने का बेटा और करीब 8-9 साल की बेटी बैठी थी. टक्कर की वजह से वे ब्रिज से नीचे गिरने लगे. तभी महिला ने गिरते वक्त रोहित और लक्ष्मी को देख लिया. 6 महीने के बेटे को बचाने के लिए उसने फौरन उसे हवा में उछाल दिया. लक्ष्मी ने उसे झटके में लपक लिया. इससे बच्चे की जान बच गई.

बच्चा तो बच गया लेकिन उसके माता-पिता उछलकर ब्रिज से 30 फीट नीचे जा गिरे. दोनों की मौत हो गई. बच्चे की बहन की ब्रिज पर ही मौत हो गई. टक्कर मारने के बाद पजेरो में सवार तीन लोग उतरकर भाग गए. तीनों अलग-अलग दिशा में भागे. देर रात तक पजेरो के मालिक का पता नहीं चल सका. चश्मदीदों के अनुसार पजेरो चलाने वाला नशे में था. हादसे में दो लोग जख्मी भी हुए हैं.



loading...