बिहार में लोगों को खुले में शौच करना पड़ा भारी, अधिकारी ने करवाई उठक-बैठक

बिहार के गया में प्रेमी जोड़े ने जान देकर चुकाई प्यार की कीमत, पुलिस ने दोषियों को किया गिरफ्तार

मुजफ्फरपुर शेल्टर केस में नागेशवर राव पर अवमानना के आरोप में सुप्रीम कोर्ट ने लगाया 1 लाख का जुर्माना, दिनभर कोर्टरूम के कमरे रहेंगे बैठे

मुजफ्फरपुर शेल्टर होम केस: बिहार सरकार को सुप्रीम कोर्ट की फटकार, एम नागेश्वर राव को अवमानना का नोटिस, दिल्ली ट्रांसफर किया केस

लोकसभा चुनाव से पहले बिहार में नीतीश कुमार को तो गुजरात में राहुल गांधी को बड़ा झटका, दल बदलेंगे नेता

बिहार में अपराधियों के हौसले बुलंद, पूर्व सांसद मोहम्मद शाहबुद्दीन के भतीजे की गोली मारकर हत्या

आईआरसीटीसी घोटाला मामला: लालू यादव एंड फॅमिली को 1-1 लाख रुपए के निजी मुचलके पर मिली जमानत, 11 फरवरी को होगी अगली सुनवाई

2018-10-05_Begusarai.jpg

बेगूसराय में खुले में शौच के लिए निकले लोगों को यहां एक अफसर ने गुरुवार को साफ-सफाई का पाठ ही नहीं पढ़ाया, बल्कि सजा भी दी. साथ ही खुले में शौच न करने की कसम दिलाने के बाद सभी को लोटे को प्रणाम भी कराया. यह घटना तेघरा की है.

दरअसल, यहां के बीडीओ और प्रखंड पशुपालन पदाधिकारी ललन कुमार सुबह दौरे पर निकले थे. इस दौरान धनकौल पंचायत में हाथ में लोटा लिए शौच को जा रहे लोगों पर उनकी नजर पड़ गई. उन्होंने सभी को बुलाकर एक कतार में खड़ा करवा दिया.

अफसर जब लोगों को साफ-सफाई की सीख दे रहे थे, तब एक युवक को हंसी आ गई. इससे नाराज अफसर ने उन्हें थप्पड़ मार दिया. खुले में शौच न करने की कसम दिलाने के बाद अफसर ने लोटे को प्रणाम कराया. उठक-बैठक भी करवाई. इसके बाद, उन्होंने चेतावनी दी कि आगे से खुले में शौच के लिए जाते पकड़े जाने पर जुर्माना वसूला जाएगा.

लोगों ने इस घटना की निंदा की. आरोप लगा कि अफसर ने एक महिला को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणी भी की. इस घटना का वीडियो वायरल भी हुआ. डीएम राहुल कुमार ने कहा कि घटना दुर्भाग्यपूर्ण है. संबंधित अधिकारी से जवाब मांगा गया है. जल्द जांच कर कार्रवाई की जाएगी.



loading...