लोकसभा चुनाव से पहले बिहार में नीतीश कुमार को तो गुजरात में राहुल गांधी को बड़ा झटका, दल बदलेंगे नेता

बिहार के गया में प्रेमी जोड़े ने जान देकर चुकाई प्यार की कीमत, पुलिस ने दोषियों को किया गिरफ्तार

मुजफ्फरपुर शेल्टर केस में नागेशवर राव पर अवमानना के आरोप में सुप्रीम कोर्ट ने लगाया 1 लाख का जुर्माना, दिनभर कोर्टरूम के कमरे रहेंगे बैठे

मुजफ्फरपुर शेल्टर होम केस: बिहार सरकार को सुप्रीम कोर्ट की फटकार, एम नागेश्वर राव को अवमानना का नोटिस, दिल्ली ट्रांसफर किया केस

बिहार में अपराधियों के हौसले बुलंद, पूर्व सांसद मोहम्मद शाहबुद्दीन के भतीजे की गोली मारकर हत्या

आईआरसीटीसी घोटाला मामला: लालू यादव एंड फॅमिली को 1-1 लाख रुपए के निजी मुचलके पर मिली जमानत, 11 फरवरी को होगी अगली सुनवाई

EVM Hacking पर नीतीश कुमार ने कहा- ईवीएम से ही मजबूत हुआ लोगों का मताधिकार

2019-02-04_CongresandJdu.jpg

बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार की पार्टी को तगड़ा झटका लगा है. पार्टी के एक एमएलसी ऋषि मिश्रा आज कांग्रेस में शामिल हुए. बिहार में जनता दल यूनाइटेड छोड़ते वक्‍त ऋषि मिश्रा ने कहा, JDU में अब काम करना बहुत कठिन हो गया है. पिछला चुनाव मैंने बीजेपी के खिलाफ लड़ा था, मेरे क्षेत्र के लोगों ने BJP के खिलाफ मुझे वोट दिया था. अब मैं अपने वोटरों को क्‍या जवाब दूंगा, जब JDU बीजेपी के साथ चुनावी मैदान में जाएगी. 

ऋषि मिश्रा ने कहा, मुझे मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार जी से कोई दिक्‍कत नहीं है पर मैं बीजेपी के साथ काम नहीं कर सकता. वह शनिवार को कांग्रेस में शामिल हो गए . आपको बता दें कि रविवार को 28 साल बाद पटना के गांधी मैदान में कांग्रेस पार्टी की रैली हुई इसमें राहुल गांधी के अलावा कमलनाथ, दिग्विजय सिंह, तेजस्वी यादव समेत अन्य नेता मौजूद थे.

उधर, गुजरात में कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है, जहां ऊंझा से विधायक आशाबेन पटेल ने कांग्रेस से इस्‍तीफा दे दिया है. उम्‍मीद जताई जा रही है कि वह बीजेपी में शामिल होने जा रही हैं. गुजरात के पटेल समुदाय में उनकी अच्छी पकड़ है तथा सामाजिक कार्यकर्ता के रुप में उनकी पहचान है.

लोकसभा चुनाव के पहले कांग्रेस को यह बड़ा झटका लगा है. डॉ आशाबेन पटेल ने शनिवार सुबह विधानसभा अध्यक्ष राजेन्द्र त्रिवेदी से मिलकर उनको अपना इस्तीफा सौंप दिया है. विधानसभा अध्यक्ष ने उनका इस्तीफा मंजूर कर लिया है. कांग्रेस की ऊंझा सीट से आशाबेन ने बीजेपी के वरिष्ठ नेता नारायण भाई पटेल को 19 हजार से भी अधिक मतों से चुनाव हराया था.



loading...