ताज़ा खबर

कर्नाटक: कांग्रेस-जेडीएस के 15 विधायकों ने थामा भाजपा का दामन, सीएम येदियुरप्पा भी रहे मौजूद

पत्रकार गौरी लंकेश हत्याकांड का आरोपी झारखंड से गिरफ्तार, 8 महीने से छिपा था

बेंगलूरू: भारतीय विज्ञान कांग्रेस में बोले पीएम मोदी- प्रयोगशालाओं में सिंगल यूज प्लास्टिक का विकल्प खोजें

कर्नाटक: पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा- पड़ोसी देशों में हिंदुओं पर जुल्म, कांग्रेस पाक नहीं शरणार्थियों के खिलाफ बोल रही है

कर्नाटक: येदियुरप्पा सरकार का यूटर्न, मंगलूरू हिंसा में मारे गए लोगों के परिजनों को मुआवजा देने का फैसला लिया वापस

Karnataka Bypoll Live: 15 विधानसभा सीटों पर मतदान जारी, येदियुरप्पा के लिए परीक्षा की घड़ी

कर्नाटक: रात होते बेंगलुरु की सड़कों पर आ जाते थे भूत, खौफ में राहगीर, पुलिस ने 7 लोगों को किया गिरफ्तार

2019-11-14_CongressJDSMLA.jpg

सुप्रीम कोर्ट से उपचुनाव लड़ने की राहत मिलने के बाद गुरुवार को 17 बागी विधायकों में से 15 भाजपा में शामिल हो गए हैं. कर्नाटक पार्टी मुख्यालय में आयोजित समारोह के दौरान इन्हें भाजपा की सदस्यता दी गई. इस दौरान मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा व प्रदेश अध्यक्ष नलिन कुमार कटील भी मौजूद रहे. 

माना जा रहा है कि पांच दिसंबर को 15 सीटों पर होने वाले उपचुनाव में भाजपा इन पूर्व विधायकों को फिर से टिकट दे सकती है. दो सीटों (मस्की और राजराजेश्वरी विधानसभा) पर चुनाव इसलिए नहीं हो रहे हैं क्योंकि इनसे संबंधित याचिकाएं कर्नाटक हाईकोर्ट में विचाराधीन हैं.

बता दें कि बुधवार को मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने शीर्ष कोर्ट द्वारा बागी विधायकों को उपचुनाव लड़ने की अनुमति देने के फैसले का स्वागत किया. येदियुरप्पा ने भरोसा जताया कि भाजपा पांच दिसंबर को होने वाले उपचुनाव में सभी 15 सीटें जीतेगी. उन्होंने कहा, शीर्ष कोर्ट का फैसला पूर्व स्पीकर और सिद्धरमैया की साजिश के खिलाफ आया है.  

इस फैसले पर अयोग्य घोषित बागी विधायकों ने भी खुशी जताई. जेडीएस से विधायक एएच विश्वनाथ ने कहा, यह फैसला हमारे लिए बहुत जरूरी है. हम इसका स्वागत करते हैं. इनके अलावा अन्य विधायकों ने भी इस फैसले पर खुशी जताई है.



loading...