अजगर को गले में डालकर सेल्फी ले रहा था फॉरेस्ट रेंजर, फिर ऐसे मुसीबत में फंसी जान

बंगाल की खाड़ी में आया 5.1 तीव्रता का भूकंप, चेन्नई तक हिल गए घर और ऑफिस

CBI vs Mamata: विरोध प्रदर्शनों में शामिल होने वाले अधिकारियों पर गिरी गाज, वापस लिए जायेंगे मेडल

CBI vs Mamata: गृह मंत्रालय ने कोलकाता पुलिस कश्मिनर के खिलाफ जांच के दिए आदेश, ममता सरकार को लिखा पत्र

बंगाल में मचे विवाद के बीच पुरुलिया पहुंचे योगी आदित्यनाथ ने कहा, एक सीएम धरने पर बैठी हैं उन्हें लोकतंत्र पर विश्वास नहीं है

ममता सरकार ने योगी आदित्यनाथ के बाद अब शिवराज सिंह चौहान को नहीं दी हेलीकॉप्टर उतारने की अनुमति

CBI vs Mamata: सुप्रीम कोर्ट से ममता सरकार को झटका, पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार को CBI के सामने होना पड़ेगा पेश

2018-06-18_python-selfie_forest-officer.jpg

 पश्चिम बंगाल के राजगंज ब्लॉक के साहेबबाड़ी इलाके में एक घर से 18 फुट लम्बा और 40 किलो वजनी अजगर (पायथन) पकड़ा गया. यह पायथन गांव में बकरी को मारकर खा गया था. जिसके बाद यहां रह रहे गांव के निवासियों ने पायथन को पकड़ने की गुहार की थी. जिसके जवाब में फॉरेस्ट रेंजर तथा उनके सहयोगी वहां पहुंचे और अजगर को पकड़ लिया.

अजगर को पकड़ने तक को सही था, लेकिन फॉरेस्ट रेंज के अधिकारी संजय दत्ता को तो अजगर के साथ सेल्फी लेने का चस्का हावी था. इसलिए उन्होंने दाएं हाथ से अजगर की गरदन को पकड़ा और उसे अपनी गरदन में लपेट लिया… बस, फिर क्या था, कैमरों के फ्लैशबल्ब चमकने लगे, और फॉरेस्ट ऑफिसर की खुशी छिपाए नहीं छिप रही थी. लेकिन शायद वह भूल गए थे कि जिसे वह गले में लटकाए घूम रहे हैं, वह आखिर है तो अजगर ही और वह अपनी जान बचाने के लिए उनपर भी हमला कर सकता है.

फिर क्या था अजगर ने हिलना-डुलना शुरू कर दिया और जल्द ही वह फॉरेस्ट रेंजर की गरदन को लपेटने की कोशिश करने लगा. हालात को काबू से बाहर जाते देखकर फॉरेस्ट रेंजर की हिम्मत भी जवाब देने लगी और उन्होंने वहां एकत्र भीड़ से अलग दिशा में चलना शुरू कर दिया और फिर वह चीखने लगे, क्योंकि अजगर ने उनकी गरदन को एक बार पूरी तरह जकड़ लिया.

लेकिन इससे पहले की अजगर अधिकारी का गला घोट देता वन विभाग का एक कर्मचारी भागकर वहां पहुंचता है और फॉरेस्ट रेंजर की जान बचाने की कोशिश करने लगा. आखिरकार फॉरेस्ट रेंजर को बचा लिया गया.



loading...