12 अरब डॉलर मार्केट कैप बढ़ते ही एपल बन जाएंगी दुनिया की 1 ट्रिलियन डॉलर वाली कम्पनी

2018-08-02_Apple.jpg

एपल एक ट्रिलियन डॉलर यानी 68 लाख करोड़ रुपए के मार्केट कैप से सिर्फ 12 अरब डॉलर दूर है. कंपनी ने मंगलवार को तिमाही नतीजे पेश किए. इसके बाद बुधवार को शेयर में 6% तक तेजी आई और मार्केट कैप बढ़कर 988 अरब डॉलर हो गया. कंपनी का शेयर 201.50 डॉलर पर बंद हुआ. इंट्रा-डे में यह 201.76 डॉलर तक चढ़ा. शेयर में तीन फीसदी का उछाल आने पर और इसकी कीमत 207.05 डॉलर होते ही एपल एक ट्रिलियन डॉलर के मार्केट कैप को छू लेगी. ऐसा होता है तो ये 1,000 अरब डॉलर वाली अमेरिका की पहली और दुनिया की दूसरी कंपनी होगी. अभी एपल से पीछे अमेजन है. इसका मार्केट कैप 877 अरब डॉलर है.

अप्रैल-जून तिमाही में कंपनी का मुनाफा 32% बढ़कर 79,000 करोड़ रुपए हो गया. रेवेन्यू 17% बढ़कर 3.6 लाख करोड़ रुपए हो गया. आईफोन की बिक्री से रेवेन्यू में 20% बढ़ोतरी हुई. कंपनी ने 4.13 करोड़ आईफोन बेचे. हालांकि ये जून 2017 की तिमाही से 1% और मार्च 2018 की तिमाही से 21% कम है. लेकिन आईफोन की औसत कीमत में 20% इजाफे की वजह से रेवेन्यू बढ़ा. एपल वॉच, होमपॉड स्पीकर और दूसरे हार्डवेयर की बिक्री 37% बढ़कर 25,000 करोड़ रुपए हो गई.

जनवरी 2018 से अब तक एपल के शेयर में 19% तेजी आई है. 12 महीने में ये 34% चढ़ा है. बुधवार की तेजी के बाद शेयर अब तक के सबसे उच्च स्तर पर पहुंच गया. कंपनी का मार्केट कैप 9 साल में करीब 900% बढ़ चुका है. मई 2009 में एपल का वैल्युएशन 121 अरब डॉलर था जो अब 988 अरब हो गया है. 24 जनवरी 2013 को शेयर में गिरावट की वजह से मार्केट कैप एक ही दिन में 59.6 अरब डॉलर घट गया था. एपल 7 साल से लगातार दुनिया की नंबर-1 कंपनी बनी हुई है.



loading...