ताज़ा खबर

एप्पल का मुनाफा जून तिमाही में 13% गिरकर 10 अरब डॉलर, iPhone की बिक्री में भी आई कमी

2019-07-31_Apple.jpg

एपल का मुनाफा अप्रैल-जून में 13% घटकर 10.04 अरब डॉलर (69,276 करोड़ रुपए) रह गया. पिछले साल जून तिमाही में 11.5 अरब डॉलर का प्रॉफिट हुआ था. फ्लैगशिप प्रोडक्ट आईफोन की बिक्री में 12% गिरावट की वजह से मुनाफा कम हुआ है. इस साल अप्रैल-जून तिमाही में एपल को आईफोन की बिक्री से 25.99 अरब डॉलर (1.79 लाख करोड़ रुपए) का रेवेन्यू मिला. पिछले साल अप्रैल-जून में 29.47 अरब डॉलर था. कंपनी ने मंगलवार को तिमाही नतीजे घोषित किए.

एपल का कुल रेवेन्यू 1% बढ़कर 53.8 अरब डॉलर (4 लाख करोड़ रुपए) रहा है. 2018 की अप्रैल-जून तिमाही में 53.2 अरब डॉलर था. कुल रेवेन्यू में आईफोन की हिस्सेदारी 48.3% रही. 2012 के बाद पहली बार ऐसा हुआ है कि एपल के रेवेन्यू में आईफोन का शेयर 50% से कम रहा.

सर्विसेज (सब्सक्रिप्शन, ऐप स्टोर फीस, अन्य ऑनलाइन सर्विस) रेवेन्यू 13% बढ़कर 11.5 अरब डॉलर (79,350 करोड़ रुपए) रहा है. वियरेबल्स, होम एंड एसेसरीज (एपल वॉच, एयरपॉड्स, बीट्स हेडफोन) रेवेन्यू 50% बढ़कर पहली बार 5.5 अरब डॉलर (37,950 करोड़ रुपए) पहुंच गया.

एक वक्त एपल के प्रमुख बाजार रहे चीन में बिक्री 4% कम हुई है. हालांकि, जनवरी-मार्च के मुकाबले नुकसान कम हुआ है. उस वक्त चीन में बिक्री 20% घट गई थी. इस लिहाज से चीन में ग्रोथ के आंकड़ों को एपल के सीईओ टिम कुक ने अहम बताया है.

कंपनी ने अप्रैल-जून तिमाही में शेयर बायबैक पर 17 अरब डॉलर खर्च किए. शेयरधारकों को 3.6 अरब डॉलर का कुल डिविडेंड दिया. एपल ने जुलाई-सितंबर तिमाही में रेवेन्यू 61 अरब डॉलर (4.20 लाख करोड़ रुपए) से 64 अरब डॉलर (4.41 लाख करोड़ रुपए) रहने का अनुमान जताया है. कंपनी ने 210.6 अरब डॉलर (14.5 लाख करोड़ रुपए) का कैश होने की जानकारी दी है. मार्च तिमाही के आखिर तक 225.4 अरब डॉलर का कैश मौजूद था.

टिम कुक ने मंगलवार को कहा कि एपल क्रेडिट कार्ड अगस्त में लॉन्च किया जाएगा. कंपनी ने इस साल मार्च में एक इवेंट के दौरान पहली बार क्रेडिट कार्ड की योजना के बारे में बताया था. एपल गोल्डमैन सैक्श के साथ मिलकर कार्ड लॉन्च करेगी. इससे खरीदारी की जानकारी आईफोन वॉलेट ऐप पर दी जाएगी.



loading...