अमृतसर रेल हादसा: लोगों ने खोले पटरी के कुंडे, 40 घंटे बाद ट्रेन सेवाएं बहाल

राहुल गांधी की रैली में भाषण देने का मौका नहीं मिलने से नाराज हुए सिद्धू, कहा- मुझे मेरी जगह दिखा दी

पंजाब कैबिनेट की मीटिंग में लिए गए कई बड़े फैसले, कांटेक्ट पर नियुक्त शिक्षक और नर्सें होंगे रेगुलर

पंजाब में किसानों का विरोध-प्रदर्शन, 8 ट्रेनें रदद्, 24 का रूट बदला गया, दिल्ली-अमृतसर मार्ग बुरी तरह से प्रभावित

पंजाब के फिरोजपुर से BSF ने पाकिस्तानी जासूस को पकड़ा, पाक सिम कार्ड और कैमरा बरामद

भारत-पाकिस्तान सीमा पर तनाव की स्थिति, चंडीगढ़, पठानकोट और अमृतसर एयरपोर्ट से सभी उड़ानें कैंसिल

पंजाब विधानसभा में जालियांबाग नरसंहार को लेकर प्रस्ताव पारित, ब्रिटिश सरकार मांगे माफी

2018-10-22_TrainAccident.jpg

अमृतसर के जौड़ा फाटक के पास रेलवे की खूनी पटरी पर एक बार फिर से खूनी खेल खेलने की योजना तैयार की गई थी. इसका खुलासा तब हुआ जब पटरी के एक दर्जन कुंडे खुले मिले. इसकी जानकारी आरपीएफ के अधिकारियों को दे दी गई. 

मालूम होता है कि ट्रैक पर एक बार फिर से खूनी खेल की योजना थी. शरारती तत्वों ने ट्रैक के बीच से कई कुंडे निकाल दिए थे. अगर कुंडों पर नजर नहीं जाती और पटरी पर ट्रेन चली जाती तो कोई बड़ा हादसा हो सकता था. सूचना के बाद आरपीएफ की टीम ने पटरी की जांच की तो करीब 200 मीटर के दायरे में करीब एक दर्जन कुंडे निकाल दिए गए थे. इससे पटरी ढीली हो गई थी.

सूत्रों के अनुसार कुंडों को हाथ से निकालना आसान नहीं है. इसके लिए हथौड़े का इस्तेमाल किया गया है. आरपीएफ और पुलिस की तरफ से कंट्रोल रूम को इसकी जानकारी दे दी गई है. 40 घंटे बाद रेल सेवाएं बहाल. 

रेलवे के प्रवक्ता ने बताया कि रेलवे को स्थानीय अधिकारियों से दोपहर 12:30 बजे ट्रेन सेवाएं बहाल करने की मंजूरी मिली. उत्तर रेलवे के प्रवक्ता दीपक कुमार ने बताया, पहले मालगाड़ी को दोपहर दो बजकर 16 मिनट पर मनावला से अमृतसर रवाना किया गया.



loading...