‘ठग्स ऑफ हिन्दोस्तान’ का ट्रेलर हुआ रिलीज, सब पर भारी पड़ रहे हैं अमिताभ बच्चन

पुलवामा हमला: बॉलीवुड अभिनेता अजय देवगन का ऐलान, पाकिस्तान में रिलीज नहीं होगी ‘टोटल धमाल’

शादी के 2 महीने बाद ही प्रियंका चोपड़ा हुई प्रेग्नेंट, सोशल मीडिया पर वायरल हो रही बेबी बंप वाली फोटो

पुलवामा हमले को लेकर भारतीय क्रिकेटर्स और बॉलीवुड सितारों में रोष, सोशल मीडिया के जरिए जताया अपना गुस्सा

बॉलीवुड अभिनेता इरफान खान के चाहने वालों के लिए बड़ी खबर, कैंसर का इलाज कराने के बाद लौटे मुंबई, जल्द शुरू करेंगे शूटिंग

अक्षय कुमार की आने वाली फिल्म ‘केसरी’ का टीजर हुआ रिलीज, 10,000 अफगानियों पर भारी पड़े 21 भारतीय सिख जवान

बॉलीवुड एक्ट्रेस शबाना आजमी को हुआ स्वाइन फ्लू, इलाज के लिए हॉस्पिटल में हुईं भर्ती

2018-09-27_ThugsOfHindostanTrailer.jpg

यश राज बैनर्स के तले बनी मल्टी  स्टाीरर फिल्मम 'ठग्सो ऑफ हिंदोस्ता्न' का ट्रेलर रिलीज हो गया है. यह पहला मौका है जब आमिर खान और अमिताभ बच्चजन की जोड़ी पर्दे पर पहली बार नजर आएगी और फिल्मे का ट्रेलर बता रहा है कि यह जोड़ी पर्दे पर कमाल करने वाली है. अमिताभ बच्चरन इस उम्र में भी बेहद असरदार और लगभग सब पर भारी पड़ते नजर आ रहे हैं. जबकि वहीं 'दंगल' में महावीर फोगाट के संजीदा किरदार में नजर आ चुके आमिर इस फिल्म  में 'फिरंगी मल्ला'ह' के किरदार में नजर आने वाले हैं जो सच में एक जबरदस्तम ठग है.

फिल्मक के ट्रेलर की शुरुआत में बताया गया है कि यह कहानी 1795 के उस दौर की है जब ब्रिटिश लोगों ने ईस्ट  इंडिया कंपनी के नाम से हमारे देश पर हुकूमत करना शुरू कर दिया था. उस समय आजाद नाम के एक ठग ब्रिटिश हुकूमत के लिए मुसीबत बन गया था. हालत यह हुए कि ब्रिटिश हुकूमत ने इस ठग से निपटने के लिए एक और ठग यानी फिरंगी मल्लाहह की मदद ली. आमिर खान का किरदार इस फिल्मप में ऐसा है कि वह किसकी तरफ है यह समझना मुश्किल है.

ट्रेलर में वीएफएक्सन का कमाल काफी मेजदार दिख रहा है और कई जगह आपको बड़े-बड़े जहाज और सितारों के लुक का अंदाज आपको 'बाहुबली' की ग्रैंड स्टालइल की याद दिला सकते हैं. आपको बता दें कि दरअसल यह एपिक एक्शसन-एडवेंचर फिल्मह ब्रिटिश लेखक और प्रशासक फिलिप मीडोज टेलर के 1839 के उपन्याडस ‘कंफेशंस ऑफ ए ठग’ ‘ पर आधारित है. इसमें एक ऐसे ठग की कथा है जिसका गैंग 19वीं सदी की शुरुआत में ब्रिटिश भारत में अंग्रेजों के लिए खासा सिरदर्द बन गया था. यह उपन्या स जब प्रकाशित हुआ तो 19वीं सदी के पूर्वार्द्ध में अपनी रोचक कथावस्तुद के कारण यह ब्रिटेन का बेस्ट -सेलर क्राइम उपन्या्स बन गया.

यह उपन्याहस इतना मशहूर हुआ कि इसने ब्रिटेन को ठग शब्द  से परिचित कराया. यहां तक  कि ब्रिटेन ने इस हिंदी शब्दु को अपने अंग्रेजी शब्दिकोश में शामिल किया. कहा जाता है कि महारानी विक्टोिरिया ने भी इस उपन्या स को पढ़ा था. रुपयार्ड किपलिंग के चर्चित उपन्यािस ‘किम’  से पहले भारत के संबंध में लिखा गया यह सबसे प्रभावी उपन्याकस माना जाता है. यहां देखें 'ठग्स् ऑफ हिंदोस्तासन' का ट्रेलर.



loading...